UP EWS Certificate: Application Form Download, आवेदन की प्रक्रिया, ईडब्ल्यूएस फॉर्म के लिए आवेदन कैसे करें?

EWS Certificate UP Application Form | How to Apply for EWS Certificate UP| Uttar Pradesh EWS Certificate Apply| ews certificate up, how to get ews certificate in up, how to make ews certificate in up

UP EWS Certificate के तहत सामान्य जाति के लोगों को 10% आरक्षण देने का प्रावधान है. प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा 12 जनवरी 2019 को पुरे देश में आर्थिक आरक्षण को लागू किया है, जिसके तहत सामान्य वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण दिया जायेगा. आरक्षण से आप सभी तो पहले से ही परिचित होंगे, पहले ओबीसी, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजातियों को आरक्षण दिया जाता था लेकिन अब आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को भी आरक्षण दिया जायेगा. इसको सबसे पहले गुजरात सरकार ने लागु किया था लेकिन अभी पुरे देश में इसे लागु कर दिया गया है. आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को आरक्षण के लिए EWS Certificate बनाना पड़ता है. इस लेख में हम जानने वाले हैं की उत्तर प्रदेश में आर्थिक आरक्षण प्रमाण पत्र (EWS Certificate) के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं? हम आपको इस लेख में इससे सम्बन्धित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों को भी साँझा करेंगे.

अलग अलग राज्यों में EWS सर्टिफिकेट बनाने के लिए अलग अलग प्रक्रिया है. कुछ राज्यों में इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करने का प्रक्रिया भी है. आंध्रप्रदेश, बिहार, और अन्य बहुत से राज्यों में EWS प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया है. परंतु उत्तर प्रदेश में इसके लिए अभी ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू नही किया गया है. यदि आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं तो इसके लिए आपको ऑफलाइन मैन्युअल तरीके से आवेदन करना होगा. इस लेख में आगे हम आपको ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा EWS सर्टिफिकेट के लिए आवेदन करने के बारे में पूरी जानकारी विस्तार में बताने वाले हैं. साथ ही हम आपको EWS Certificate Application Form डाउनलोड करने के बारे में भी जानकारी देने वाले हैं.

EWS Certificate क्या है?

EWS का फुलफॉर्म Economical Weaker Section है. ईडब्ल्यूएस सामान्य श्रेणी के तहत एक नया आरक्षण उप-श्रेणी है. इसे 12 जनवरी 2019 को पुरे देश में लागू किया गया था और इस योजना को सबसे पहले गुरजत सरकार में अपने राज्य में लागु किया था और बाद में इसे विभिन्न राज्यों में लागु किया गया. जिस प्रकार ओबीसी, एससी, एसटी श्रेणी के लोगों को पहले से ही आरक्षण प्रदान किया जाता आ रहा है. उसी प्रकार अब सामान्य वर्ग से आने वाले आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को भी आरक्षण दिया जायेगा.

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के वसीयतनामा के आधार पर, एक व्यक्ति सरकारी व्यवसायों में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग खंड के लिए 10% आरक्षण का लाभ प्राप्त कर सकता है और उच्च शिक्षा के लिए राष्ट्र को स्थापित कर सकता है। किसी भी सरकार में 10% ईडब्ल्यूएस आरक्षण के लाभ की गारंटी देने के लिए उन्नत शिक्षा में पेशा या प्रतिज्ञान, आवेदकों को मूल रूप से कुशल आर्थिक द्वारा दिए गए वैध आर्थिक रूप से कमजोर धारा वसीयतनामा देने की आवश्यकता है।

किसी भी सरकार में 10% ईडब्ल्यूएस आरक्षण के लाभ का दावा करने के लिए उच्च शिक्षा में नौकरी या प्रवेश उम्मीदवारों को अनिवार्य रूप से सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी वैध ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र जारी करना होगा. सिविल पदों और सेवाओं में सीधी भर्ती में 10% आरक्षण प्रदान करने के लिए ईडब्ल्यूएस आरक्षण योजना शुरू किया गया है. इस सर्टिफिकेट के लिए भारत के वे लोग जो एससी, एसटी, और ओबीसी श्रेणी जैसी आरक्षण योजना के तहत नही आते हैं, वे मूल रूप से ईडब्ल्यू प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकते हैं. यह प्रमाण पत्र सामान्य रूप से समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से सम्बन्धित नागरिकों को जारी किया जाता है.

UP EWS Certificate Application

भारत के विभिन्न राज्यों में ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन की प्रक्रिया अलग अलग है. बहुत से राज्यों में इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा है. आंध्र प्रदेस्ग, बिहार, और अन्य बाहुत से राज्यों में इसके लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. इन राज्यों से आने वाले नागरिक इसके अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं. इस लेख में हम खास तौर से उत्तर प्रदेश के बारे में बात कर रहे हैं. आपको बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार ने अभी तक ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन आवेदन की सुविधा शुरू नही किया है. यूपी के नागरिकों को इसके लिए ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा ही आवेदन करना होगा.

मैन्युअल तरीके से इसके लिए आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले EWS Application Form प्राप्त करना होगा. आगे हमने इसे डाउनलोड करने की प्रक्रिया बताया हुआ है. फॉर्म में सभी जानकारी को भरने के बाद और उससे सम्बन्धित दस्तावेजों को जोड़ने के बाद तहसील में जाकर जमा करना होगा. उसके बाद ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन पूरा हो जायेगा. आगे इस लेख में हम आपको आवेदन करने के बारे में पूरी जानकारी विस्तारपूर्वक बताने वाले हैं.

EWS Certificate Apply Online UP

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र का उद्देश्य:

जैसा की आप सभी जानते होंगे की हमारे देश में एससी, एसटी, ओबीसी के श्रेणी के लोगों को पहले से ही आरक्षण दिया जा रहा है. इससे इन श्रेणियों से आने वाले लोगों को उच्च शिक्षा और नौकरी के समय आरक्षण दिया जाता है. कुछ जतियों के आर्थिक स्तिथि को देखते हुए उन्हें आरक्षण प्रदान किया जाता है लेकिन बहुत से लोग सामान्य वर्ग के होते हैं लेकिन उनकी आर्थिक स्तिथि बेहतर नही होती है. चूँकि हमारे देश में पहले सामान्य वर्ग के लोगों को आरक्षण नही दिया जाता थे तो इससे आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को काफी परेशानी होती थी. वे लोग अपनी आर्थिक स्तिथि के कारन उच्च शिक्षा प्राप्त नही कर पाते थे और नौकरी के लिए भी परेशानी होती थी. इसी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार ने ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के तहत सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को आरक्षण प्रदान करने का फैसला किया है.

EWS प्रमाण पत्र की वैद्यता

आप सभी को पता होगा की आय प्रमाण पत्र और संपत्ति प्रमाण पत्र समय की एक विशिष्ट अवधि के लिए ही मान्य होते हैं. इसी प्रकार आपमें से बहुत से लोगों के मन में सवाल होंगे की ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट की वैद्यता कितना है. तो आपको बता दें की ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र की वैद्यता राज्यों के नामित प्राधिकारी द्वारा तय की जाती है. हालांकि, ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र की वैधता आम तौर पर जारी होने की तारीख से एक वर्ष होती है। प्रवेश या भर्ती के उद्देश्य के लिए ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र का उपयोग करने से पहले, आवेदकों को यह देखना होगा कि आय प्रमाण पत्र वैध है या नहीं। प्रमाण पत्र की वैधता के बारे में अधिक जानकारी के लिए, व्यक्ति को संबंधित राज्य / संघ राज्य क्षेत्र के जारी करने वाले प्राधिकारी से संपर्क करना चाहिए।

Benefits of EWS Certificate

  • ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र का उद्देश्य देश के सामान्य जाति के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को आरक्षण प्रदान करना है. इस प्रमाण पत्र के लिए केवल सामान्य वर्ग के लोग ही आवेदन कर सकते हैं. इसके तहत अनेक लाभ प्रदान किये जाते हैं, जिनके बारे में हम निचे विस्तार में जानने वाले हैं.
  • EWS सर्टिफिकेट शिक्षा, नौकरी, आदि के क्षेत्र में कई लाभ प्रदान करता है.
  • इससे सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को 10% आरक्षण दिया जायेगा.
  • राज्य के सिविल पदों और सेवाओं में भर्ती के लिए आरक्षण दिया जाता है.
  • सभी सरकारी नौकरियों में 10 प्रतिशत का आरक्षण दिया जाता है.
  • शैक्षिक संस्थानों में प्रवेश के लिए इसके तहत आरक्षण प्रदान किया जाता है.

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए पात्रता एवं मानदंड

  • वे व्यक्ति जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षण की योजना के तहत शामिल नहीं हैं और जिनके परिवार की कुल वार्षिक आय 8.00 लाख रुपये से कम है उन्हें आरक्षण के लाभ के लिए ईडब्ल्यूएस के रूप में पहचाना जाना चाहिए।
  • आवेदन के वर्ष से पहले वित्तीय वर्ष के लिए सभी स्रोतों अर्थात वेतन, कृषि, व्यवसाय, पेशे आदि से आय भी शामिल होगी।
  • ऐसे व्यक्ति जिनके परिवार के पास निम्नलिखित में से कोई भी संपत्ति है या उनके पास है, को ईडब्ल्यूएस के रूप में पहचाने जाने से दूर रखा जाएगा, भले ही वह परिवार की आय के बावजूद हो: –
    • 5 एकड़ कृषि भूमि और ऊपर;
    • 1000 वर्ग फुट और उससे अधिक का आवासीय फ्लैट;
    • अधिसूचित नगरपालिकाओं में 100 वर्ग गज और उससे अधिक का आवासीय भूखंड;
    • अधिसूचित नगरपालिकाओं के अलावा 200 वर्ग गज और उससे अधिक के आवासीय भूखंड।
  • एक “परिवार” द्वारा अलग-अलग स्थानों या अलग-अलग स्थानों / शहरों में रखी गई संपत्ति को जमीन पर लगाते समय क्लब किया जाएगा। या ईडब्ल्यूएस स्थिति का निर्धारण करने के लिए संपत्ति का परीक्षण किया जायेगा.
  • इस उद्देश्य के लिए “परिवार” शब्द में वह व्यक्ति शामिल होगा जो आरक्षण का लाभ चाहता है, उसके माता-पिता और भाई-बहन 18 वर्ष से कम आयु के साथ-साथ उसके पति / पत्नी और 18 वर्ष से कम आयु के बच्चे।

UP EWS Certificate के लिए आवश्यक दस्तावेज:

उत्तर प्रदेश के जो इच्छुक नागरिक ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन करना चाहते हैं, इसके लिए उन्हें कुछ आवश्यक दस्तावेजों की जरुरत होगी. निचे हम आपको बता रहे हैं की आपको आवेदन के लिए किन दस्तावेजों की जरुरत होगी.

  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • गरीबी रेखा से निचे का कार्ड
  • बैंक पासबुक

आवेदन का शुल्क

आवेदक करते समय आपको नाममात्र के आवेदन का शुल्क का भुगतान भी करना होगा. तो आपको बता दें की अलग अलग राज्यों में आवेदन का शुल्क अलग अलग है. आवेदन शुल्क की राशी ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र जारी करने वाले प्राधिकरण और राज्य सरकार पर भी निर्भर करती है. अगर हम उत्तर प्रदेश की बात करें तो इसका आवेदन फीस 50 रुपया हो सकता है. जब आप आवेदन पत्र जमा करेंगे तभी आपको फीस भुगतान करना होगा.

Uttar Pradesh EWS आवेदन फॉर्म डाउनलोड कैसे करें?

उत्तर प्रदेश के जो इच्छुक लाभार्थी EWS Certificate के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो उन्हें ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा मैन्युअल रूप से फॉर्म जमा करना होगा. इसके लिए सबसे पहले उम्मीदवार को फॉर्म प्राप्त करना होगा. यह फॉर्म आपको तहसील में या तहसील के आस पास जो दुकानें होती हैं, वहां पर मिल जाएगी. यूपी ईडब्ल्यूएस आवेदन फॉर्म को आप निचे दिए लिंक पर क्लिक करके पीडीएफ के रूप में डाउनलोड कर सकते हैं.

इस फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद आपको इसे प्रिंट आउट निकाल लेना होगा. यदि आपके पास प्रिंटर नही है तो आप अपने नजदीकी दुकानदार के पास जाकर भी फॉर्म को प्रिंट आउट कर सकते हो. उसके बाद आपको फॉर्म को सही-सही भरना होगा. फॉर्म को भरने के बारे में हम निचे विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान कर रहे हैं.

ईडब्ल्यूएस आवेदन फॉर्म को भरने की प्रक्रिया

ऊपर दी गयी जानकारी को फॉलो कर आपने आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर लिया होगा और इसे प्रिंट आउट भी कर लिए होंगे. हम निचे में फॉर्म का स्क्रीनशॉट दिखा रहे हैं. और साथ ही हम इसे भरने की प्रक्रिया भी जानेंगे.

ई डब्ल्यूएस प्रमाण पत्र:

Ews Certificate Up Form Preview
Ews Certificate Up Form Preview
  • ऊपर इमेज में देख सकते हैं की फॉर्म में ऊपर आपको कार्यालय का नाम, दिनांक, वित्तीय वर्ष, आदि भरना होगा.
  • उसके बाद आवेदक का नाम, पिता/पति का नाम, ग्राम/क़स्बा, पोस्ट ऑफिस, थाना, तहसील, जिला, राज्य, पिन कोड, आदि जानकारी सही-सही भरना होगा.
  • उसके बाद निचे में आवेदक का पासपोर्ट साइज़ फोटो चिपकाना होगा.

स्वयं घोषणा पत्र भरने की प्रक्रिया:

Ews Up Self Declaration Form Preview
Ews Up Self Declaration Form Preview
  • इसमें सबसे पहले आपको अपना नाम, पिता/पति का नाम, ग्राम/क़स्बा, पोस्ट ऑफिस, थाना, ब्लाक, तहसील, जिला, राज्य, आदि भरना होगा.
  • उसके बाद आपको अपना जाति भरना होगा.
  • फिर आपको परिवार की कुल श्रोतों से कुल वार्षिक आय शब्दों में लिखना होगा.
  • फिर निचे में आवेदक का हस्ताक्षर, स्थान, दिनांक, आदि भरना होगा.
  • इस प्रकार आपका फॉर्म भरा चला जायेगा.

Economically Weaker Section फॉर्म भरने के बाद क्या करें?

उम्मीद है ऊपर बताई गयी जानकारी से आप आवेदन फॉर्म को आसानी से भर लिए होंगे. यदि आपको फॉर्म भरने में किसी प्रकार की परेशानी होती है तो हमें कमेंट में बताएं. आप इस फॉर्म को किसी कंप्यूटर या फोटो कॉपी करने वाले दुकान से भी प्राप्त कर सकते हो. फॉर्म भरने के बाद आपको उसमे आवश्यक दस्तावेजों को अटैच कर देना होगा. यहाँ आपको पटवारी के द्वारा तैयार किया गया रिपोर्ट को अटैच करना होगा. उसके बाद आपको तहसील में जाना होगा. वहां आपको ईडब्ल्यूएस आवेदन पत्र को जमा करना होगा. उसके बाद कर्मचारी के द्वारा ऑनलाइन आवेदन किया जायेगा. आवेदन पूरा हो जाने के बाद आपको एक पावती दिया जायेगा. उसके बाद आपको 7 दिन से 15 तक इंतजार करना होगा, फिर आप तहसील आकर अपना ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र प्राप्त कर पाएंगे.

उम्मीद है अगर आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं तो यह लेख आपके लिए ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट बनाने के लिए काफी उपयोगी हो सकती है. इससे सम्बन्धित अगर आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं. इसके अलावा हम इससे सम्बन्धित कुछ आम सवाल और उसके जवाब निचे में जानते हैं.

FAQs Regarding “EWS Certificate UP Apply, Application, Status”

EWS का मतलब क्या है?
EWS का फुलफॉर्म Economically Weaker Section होता है. सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को EWS के तहत आरक्षण प्रदान किया जाता है.

ईडब्ल्यएस के तहत कितना आरक्षण मिलता है?
सामान्य वर्ग के ऐसे लोग जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं, उन्हें ईडब्ल्यूएस के तहत 10% तक का आरक्षण प्रदान किया जाता है.

में ओबीसी श्रेणी से सम्बन्धित हूँ, क्या में ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करने के योग्य हूँ?
नही, आप ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र के लिए योग्य नही है. क्योकि यह प्रमाण पत्र केवल सामान्य श्रेणी के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए है.

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र की वैधता क्या है?
ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र एक विशेष वित्तीय वर्ष के लिए जारी किया जाता है इसलिए इस प्रमाण पत्र की वैधता जारी होने की तारीख से एक वर्ष की होने की उम्मीद है।

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र के लिए जरुरी दस्तावेज क्या हैं?

  • इसके लिए कुछ जरुरी दस्तावेज इस प्रकार है:
    • आधार कार्ड
    • आईडी प्रमाण
    • शपथ पत्र / स्व घोषणा
    • जमीन / संपत्ति के दस्तावेज
    • आवासीय प्रमाण / अधिवास प्रमाण पत्र
    • पासपोर्ट के आकार का फोटोग्राफ
    • अन्य प्रासंगिक दस्तावेज

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कैसे करें?
इसके लिए ऑफलाइन प्रक्रिया आवेदन करने के लिए आपको आवश्यक दस्तावेजों के साथ तहसील में जाना होगा. उसके बाद वहां आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा, उसे भरकर आपको जमा कर देना होगा. इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी हमने ऊपर बताया हुआ है.

EWS प्रमाणपत्र कैसे प्राप्त करें?
आप इसे अपने तहसीलदार कार्यालय या नामित जारी करने वाले प्राधिकारी या निकटतम सीएससी केंद्र में जमा कर सकते हैं।

Share on:

Leave a Comment

×