UP Agriculture, Kisan Registration, Status, Registration at upagriculture.com

up agriculture, UP Agriculture Token Generate | up agriculture status, up agriculture 81, up agriculture registration page, agriculture department up, up agriculture .com

UP Agriculture – जैसा की आप सभी जानते हैं की कृषि उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था के साथ-साथ पुरे देश की रीढ़ की हड्डी है. इसलिए सरकार अनेकों प्रकार से किसानों की मदद करना चाहते हैं. किसानों की आर्थिक स्तिथि को देखते हुए सरकार ने पीएम किसान सम्मान योजना को लाया. जिसके तहत किसानों की आर्थिक सहायता के लिए हर साल 6000 की राशि प्रदान करेगा. ये राशि तीन किश्तों में दिया जाता है. वैसे इसके बारे में हमने पहले से आर्टिकल लिखा हुआ है, जिसमे हमने इससे सम्बन्धित पूरी जानकारी दी है. आप उस पोस्ट को पढ़ सकते हैं.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करने के लिए देश के राज्य सरकारों को इसकी जिम्मेदारी दी गयी है. मतलब इस योजना के लिए अप्लाई करने के लिए सबसे पहले आपको अपने राज्य के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट की वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा. उसके बाद आप किसान सम्मान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन दे पाएंगे.

Content Summary

UP Agriculture 2022 | Kisan Registration

यदि आप एक किसान हैं या फिर आप एक किसान परिवार से आते हैं और आप सरकार के द्वारा किसानों को दी जाने वाली सुवधाओं का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसान पंजिकरण करवाना होगा. इसके लिए हर राज्य के मुख्यमंत्री ने अपना अलग अलग वेबसाइट पोर्टल बनाया है, जिसमे जाकर आप अपना किसान रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं.

आज हम आपको बताने वाले हैं की उत्तर प्रदेश की agriculture department की site में रजिस्ट्रेशन कैसे करें? इससे सम्बन्धित आपको सभी जानकारी देने की कोशिश करेंगे. यदि आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं और आप एक किसान हो तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत जरुरी हो सकता है. आज के इस पोस्ट में आपको हम किसान सम्मान योजना के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं. इसलिए इस पोस्ट को ध्यान से लास्ट तक जरुर पढ़ें.

upagriculture.com

किसान हमारे देश के बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है. ये लोग ख़ेती करने के लिए बहुत मेहनत करते हैं लेकिन फिर भी इनकी आरती स्तिथि बहुत अच्छी नही होती है. क्योकि खेती में मेहनत तो होता ही है, उसके साथ साथ पैसे भी खर्च करने पड़ते हैं. बहुत सारे किसान पैसे के चलते ठीक प्रकार से खेती नही कर पाते हैं.

किसान बहुत मेहनत किसी प्रकार फसल तैयार कर भी लेते हैं तो कई बार किसी प्राकृतिक आपदा के कारण उनकी फसलें बर्बाद हो जाती है. ऐसे स्तिथि में बहुत सारे किसान मानसिक तनाव का शिकार हो जाते हैं और आत्महत्या कर लेते हैं. आप सभी news में पढ़ते या देखते होंगे की हर साल बहुत से किसान आत्महत्या कर लेते हैं.

किसानों की इन्ही समश्याओं को देखते हुए सरकार ने किसानों के लिए कई योजनायें निकली है. इन योजनाओं के माध्यम से सरकार कई प्रकार की सहायता प्रदान करेगा. जिससे किसान भाइयों को कृषि करने में और भी ज्यादा लाभ मिल पाए. इस योजना का फायदा उठाने के लिए किसानों को agriculture department की वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. हर राज्य के लिए अलग-अलग agriculture portal बनाये गये हैं.

किसान रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपको अपने राज्य के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट की वेबसाइट में जाना होगा. उसके बाद वहाँ पर आपको अपने बारे में पूरा ब्यौरा भरना होगा, उसके बाद ही आप अपना रजिस्ट्रेशन करवा पाएंगे. इस योजना के लिए आवेदन करते समय किसानों के बैंक खाते की details भी मांगी जाती है, जिससे उन्हें सरकार द्वारा आर्थिक मदद सीधे उनके बैंक खाते में भेजे जा सके. इसके अलावा भी बहुत साड़ी जानकारी किसानों को भरना होगा. जिससे सरकार को पता चल पायेगा की आप कितना खेती करते हो ताकि सरकारी उसी के हिसाब से आपको अनेक योजनाओं का लाभ दे पायेगा.

UP Agriculture Registration Page

जैसा की हमने आपको ऊपर बाताया की भारत सरकार किसानों के लिए कई तरह की योजनायें लेकर आये हैं. इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आपको अपने state के agriculture department की वेबसाइट में जाकर किसान रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. इसके लिए आपको कई प्रकार की details पूछे जायेंगे. साथ ही यहाँ आपको अपने बैंक खाता का details भी देना होगा. जिससे सरकार आपके बैंक खाते में योजनाओं के लाभ के लिए आर्थिक मदद कर पाए.

यदि आप उत्तर प्रदेश के हैं तो आपको http://upagriculture.com/ की वेबसाइट में जाकर किसान रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. फिर आपका ब्यौरा सरकार के पास चले जायेगा और आप भी सरकार द्वारा दिए गये किसान योजनाओं का लाभ उठा पाएंगे. आपको बता दें की सरकार केवल उन किसानों का हिसाब रखता है जो अपना किसान रजिस्ट्रेशन करवा लिया है.

इसलिए अगर आपने अभी तक रजिस्ट्रेशन नही करवाया है तो जल्द से जल्द करवा लीजिये. हम आपको इस पोस्ट में जानकारी देने वाले हैं की आप उत्तर प्रदेश के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट की वेबसाइट में जाकर अपना किसान रजिस्ट्रेशन कैसे करवा सकते हो. अगर आप उत्तर प्रदेश के रहने वाले किसान हैं तो इस पोस्ट को आगे पढ़िए. यदि आप किसी अन्य राज्य से हैं तो इसके लिए हमने पहले से पोस्ट लिखा हुआ है. आप ऊपर सर्च आइकॉन पर क्लिक करके खोज सकते हैं.

UP Agriculture Yantra Token पोर्टल द्वारा दी जाने वाली सेवाएँ

यूपी किसान पंजीकरण करने के बारे में जानने से पहले हम ये जान लेते हैं की यदि आप इसमें किसान के रूप में रजिस्टर हो जाते हैं तो आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कौन कौन सी सेवाएँ प्रदान किये जायेंगे. इसके लिए हमने निचे एक एक कत्र्के बताया है की आपको upagriculture.com में कौन कौन सी सेवाएँ मिलेगी.

  • किसान पंजिकारण
  • पंजीकरण की रिपोर्ट
  • पंजीकरण की ग्राफ
  • किसान सहायता
  • सुझाव एवं शिकायतें
  • कृषकों हेतु सुविधाएँ एवं अनुदान
  • लाभ वितरण हेतु चयनित कृषक
  • अनुदान खाते में भेजने की प्रगति जानें
  • लाभार्थियों की सूची
  • सफलता की कहानी’
  • सुखा राहत प्रगति
  • पंजीकरण की प्रगति
  • कहाँ, किसको क्या लाभ मिला
  • वैज्ञानिकों की बात किसानों के साथ
  • महत्वपूर्ण योजनाओं में लाभ वितरण
  • किसानों के लिए ताजा अपडेट
  • अन्य सूचनाएं.

इसके वेबसाइट में आपको उपर्युक्त सभी सेवाएँ मिलेगी. इसके अलावा भी बहुत साड़ी सुविधाएँ मिलेगी. किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को 6000 रुपये सालाना मिलेगा. यदि कभी कोई प्राकृतिक आपदा आ जाता है तो किसानों को इसके माध्यम से सहायता पहुंचाई जाएगी. में आपको निचे इसके बारे में विस्तार से जानकारी देने वाला हूँ.

E Sathi UP: जाति/निवासी/आय प्रमाण पत्रSewayojan UP: Rojgar Mela 2021
UP Free Tablet Yojana 2021: Online RegistrationeDistrict UP: DISTRICT.UP.NIC.IN Login

UP Agriculture PM Kisan के फायदे

Kisan Panjikaran करने के बारे में जानकारी जानने से पहले आपको UP Agriculture की वेबसाइट में दी जाने वाली सेवाओं के बारे में विस्तार से जानकारी देना चाहेंगे. ताकि आपको अच्छे पता चल पाए की जब आप Kisan Registration करा लेंगे तो आपको क्या क्या लाभ मिलेंगे.

1. सरकार के किसान सूची में आपका नाम आ जाता है

हमारे देश में बहुत सारे किसान है लेकिन सरकार के पास उन सभी किसानों के बारे में details पता नही है. जब सरकार के पास सभी कसानों का ब्यौरा हो तभी वो किसान की सहायता के लिए अनेक प्रकार के योजनाओं का लाभ किसानों के पास पहुंचा पायेगा.

इसी को देखते हुए सरकार ने इस पोर्टल के माध्यम से सभी किसानों का डाटा जमा करना शुरू किया. जिससे सरकार सही समय पर किसानों की मदद कर पाए. जो लोग किसान रजिस्ट्रेशन करा लिए हैं, सरकार के पास उन्ही किसानों की जानकारी होती है और सरकार सिर्फ उन्ही किसानों को सहायता कर पाते हैं.

जब आप किसान पंजीकरण करते हैं तो उसमे आपको बहुत साड़ी जानकारी देने पड़ते हैं. और साथ ही आपको अपना बैंक खता details भी देना पड़ता है ताकि सरकार सीधे आपके बैंक खाते में पैसे भेज पाए. ये योजना “पहले आओ पहले आओ” के तहत काम करता है. यानि आप जितना जल्दी हो सके किसान रजिस्ट्रेशन करवा लेते हो तो अच्छा है.

2. किसानों तक सीधे लाभ पहुँचाना

जब आप किसान पंजीकृत करवा लेते हैं तो सराकर आपके खाते खाते में direct पैसा भेज पायेगा. इसके अलावा भी बहुत सार सुविधाओं का आपको direct फायदा मिल पायेगा. अगर हम पहले की बात करें तो पहले किसानों को direct पैसा नही मिलता था. जिससे कुछ लोगों को पैसे मिलते थे और कुछ लोगों को पैसे नही भी मिल पाते थे. इसलिए सरकार किसान पंजीकरण के समय किसानों से उनका Bank details ले लेता है.

इसी तरह जब आप किसान रजिस्ट्रेशन कर लेते हैं तो आप अपने एंड्राइड फ़ोन में इसके ऑफिसियल एप को इनस्टॉल कर सकते हो. इससे आपको नई नई योजनाओं के बारे में जानकारी मिलेगी. आपको खेती सम्बन्धित टिप्स भी दिए जायेंगे. नये नये updates जान पाएंगे. और भी बहुत सारी सुविधाओं का लाभ आप direct उठा सकते हो.

3. सुझाव एवं शिकायत

यदि किसानों को किसी प्रकार की समश्या हो रही है तो वो ऐसे स्तिथि में direct कृषि विभाग से शिकायत कर सकता है. पाहले कई बार ऐसा होता था की किसानों को अपनी समश्या कृषि विभाग को बताने में बहुत समय लग जाता था. लेकिन अभी इस पोर्टल के माध्यम से किसी भी समय अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है.

4. लेटेस्ट अपडेट

जब किसान अपना पंजीकरण करवा लेते हैं तो उनका फ़ोन नंबर भी सरकार के पास चला जाता है. जो किसान मोबाइल एप का उपयोग नही करता है तो उनको sms के माध्यम से सूचित कर दिया जाता है. इससे किसान योजनाओं का लाभ सही समय पर उठा पायेगे.

वरना पहले भी सरकार किसानों के लिए कई योजनायें लाते थे लेकिन अधिकतर किसानों को इसके बारे में जानकारी नही होती थी. जिन किसानों को इसके बारे में पता चलता सिर्फ वे ही इसका लाभ उठा पाते थे. लेकिन अभी सरकार का किसानों के साथ direct connection हो गया है. जिससे समय आने पर किसी भी किसान के पास आसानी से सुचना दे सकता है.

5. आपदा का लाभ

आप सभी को पता होगा की कृषि कार्य के लिए किसान बहुत मेहनत करते हैं. बहुत मेहनत के बाद फसल आता है फिर जब फसल बड़ा होने लगता है तो कई बार किसी आपदा के कारण उनका फसल बर्बाद हो जाता है. ऐसे में किसानों का सारा मेहनत बर्बाद हो जाता है. ऐसे में जिन किसानों की आर्थिक स्तिथि बेहतर है उन्हें ज्यादा फर्क नही पड़ता है. परंतु कुछ किसान ऐसे भी होते हैं जिनकी आर्थिक स्तिथि ठीक नही होती है. वह किसी तरह ऋण लेकर खेती करते हैं तो ऐसे लोग कई बार मानशिक तनाव के कारण बहुत कुछ कर लेते हैं.

तो किसान पंजीकरण करने के बाद उन किसानों को सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता दी जाएगी जिनका फसल किसी आपदा में बर्बाद हो गया है. इसके लिए सरकार जितना हो सकता है किसानों की आर्थिक स्तिथि को बेहतर करने का कार्य करेंगे.

जैसे अभी कोरोना महामारी के लिए भी सरकार ने किसानों के खाते में 2000 रुपये की राशि भेजे हैं. जो लोग इस पोर्टल में रजिस्टर करा लिए थे, उनके खाते में 2000 रुपये आ गये होंगे. किसी भी समय आप पैसे निकाल सकते हैं.

6. तरह तरह की योजनाओं का लाभ

सरकार अभी किसानों के लिए तरह तारह की योजनायें लाते रहते हैं. जैसे अभी सरकार ने प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना को लाया है. जिसके तहत किसान खेती की सिंचाई के लिए इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. इस योजना के बारे में पूरी जानकारी इसके अधिकारिक वेबसाइट में आपको मिल जाएगी. इसी प्रकार और भी योजनायें सरकार लाते रहता है. आप इस पोर्टल के माध्यमसे उन योजनाओं के लिए आवेदन दे सकते हैं और उसका लाभ उठा सकते हैं.

पोर्टल पर नवीन सूचनायें

  • कोषागार के नए फॉर्मेट पर DDO लॉग इन में बेनेफिसिअरी फाइल जनरेट करने के लिए Both के विकल्प पर जाकर जनरेट बेनेफिसिअरी फाइल new format (Green Tab)चुनें |
  • चार जनपद शामली,श्रावस्ती,हापुड़ तथा संभल जिनका कोषागार खाता इलाहबाद बैंक में है वे कोषागार के नए फॉर्मेट पर DDO लॉग इन में बेनेफिसिअरी फाइल जनरेट करने के लिए Both के विकल्प पर जाकर जनरेट बेनेफिसिअरी फाइल new format (Blue Tab) चुनें |
  • DBT सम्बन्धी समस्या समाधान के लिए DBT पोर्टल पर “सुझाव एवं शिकायतें” में “कृषि विभाग के अधिकारियों के लिये” लिंक उपलब्ध “ऑनलाइन समस्या निवारण प्रणाली” पर अनुरोध पत्र भेजें| इसके लिये लॉग-इन आई०डी० एवं पासवर्ड उप कृषि निदेशक को उपलब्ध कराया गया सी.यू.जी. लॉग-इन आई०डी० एवं पासवर्ड ही होगा |

Documents for UP Agriculture Registraion

यदि आप किसान पंजीकरण करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ डॉक्यूमेंट चाहिए. में आपको निचे इसके बारे में बता रहा हूँ. आप इन डाक्यूमेंट्स को सबसे पहले तैयार करके रख लीजिये.

  • आधार कार्ड
  • वेरीफाई करने के लिए आधार कार्ड से मोबाइल लिंक होना चाहिए या फिर आपके पास बायोमेट्रिक डिवाइस होना चाहिए.
  • बैंक खाता का डिटेल्स जैसे खाता नंबर, IFSC Code, आदि
  • जमीन का विवरण
  • जमीन के दस्तावेज या एलपी रशीद

महत्वपूर्ण योजनाओं में लाभ वितरण

UP Agriculture Registration Process

यदि आप एक किसान है और आप उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं तो आप निचे बताये गये स्टेप्स को फॉलो करके ऑनलाइन किसान पंजीकरण करवा सकते हो. इससे पहले आपको ऊपर बताये गये दस्तावेजों को रेडी कर लेना होगा. यदि आप किसी दुसरे राज्य से हो तो उसका प्रोसेस लग होगा. निचे बताये गये प्रोसेस को सर्फ उत्तर प्रदेश के किसानों को ही फॉलो करना होगा.

  1. सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश की Agriculture Department की वेबसाइट में जाना होगा. i.e http://upagriculture.com/Default.aspx
  2. अब आपके सामने होमपेज आ जायेगा. यहाँ होमपेज में “पंजीकरण करें” पर क्लिक करना होगा.
  1. अब आप एक नये वेबपेज में आ जायेंगे. इस पेज में आपको बहुत सारे आप्शन दिखाई देंगे. यहाँ पर आपको “कृषि विभाग की योजनाओं हेतु” सेक्शन के निचे “ऑनलाइन पंजीकरण करें का विकल्प होगा. इस लिंक पर आपको क्लिक करना होगा. यहाँ आपको रजिस्ट्रेशन के लिए दो लिंक दिया गया है. एक काम नही करें तो दुसरे link पर क्लिक करे.
  1. अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म आ जायेगा. यहाँ पर सबसे पहले आवेदक को अपना आधार नंबर एंटर करके वेरीफाई पर क्लिक करना होगा, उसके बाद आधार कार्ड में दिए गये मोबाइल नंबर पर एक  ओटीपि आएगा. इसको एंटर करके वेरीफाई कर लीजिये.
  2. अब उसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म के सारे आप्शन आ जायेंगे. इसमें आपको निम्न जानकारी भरनी होगी.अपने बारे में सभी जानकारी भरें जैसे आपका नाम, पता, आदि.
  3. उसके बाद आपको अपने बैंक अकाउंट की डिटेल्स भरनी होगी. जैसे बैंक अकाउंट नंबर, IFSC Code, आदि.
  4. ऊपर बताई गयी जानकारी को भरने के बाद आपको आवेदन फॉर्म को फाइनल सबमिट कर देना होगा.

जैसे ही आप फॉर्म को सबमिट कर देंगे तो आपको अंत में एक पंजीकरण संख्या मिलता है. इस पंजीकरण संख्या को आपको सुरक्षित रखना होगा. इससे आप भविष्य में अपने रजिस्ट्रेशन की स्तिथि को जान पाएंगे.

जैसे ही आप इस पोर्टल में अपना सफलतापूर्वक पंजीकरण करा लेते हैं फिर आप किसान सम्मान निधि योजना के लिए ऑनलाइन ऑनलाइन आवेदन दे पाएंगे. इसके लिए आपको फिर से UP Agriculture department के वेबसाइट में लॉग इन करना होगा और फिर वहाँ से आप Kisan Samman Nidhi Yojna के लिए आवेदन कर सकते हो.

UP Kisan Agriculture Status Check 2022 | यूपी किसान पंजीकरण की स्तिथि कैसे चेक करें?

यदि अपने ऊपर बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो करके अपना किसान पंजीकरण कर लिया है तो अब आपको थोडा वेट करना पर सकता है. आप निचे बताई प्रक्रिया को फॉलो करके यूपी फार्मर रजिस्ट्रेशन की स्टेटस कर सकते हो.

  1. सबसे पहले आपको इस वेबपेज में जाना होगा. http://www.upagriculture.com/Record_Fatch.aspx
  2. उसके बाद आपको यहाँ पर अपने बारे कुछ details एंटर करना होगा. यहाँ अपना जनपद, ब्लॉक, कृषक सेलेक्ट करें और फिर उसके बाद आप किसान आईडी (जो आपको पंजीकरण के बाद मिलता है) या मोबाइल नंबर, या खाता संख्या से अपना status चेक सकते हो.

इस प्रकार आप आसानी से चेक कर सकते हो की आपका किसान रजिस्ट्रेशन सफल हो पाया है या नही. यदि आपका किसान पंजीकरण सफल हो गया है तो आप किसान सम्मान निधि योजना के लिए इसके अधिकारिक वेबसाइट में लॉग इन करके apply कर सकते हो.

upagriculture.com:81

यूपी एग्रीकल्चर 81 पोर्टल के माध्यम से आप किसान अनुदान सेवाओं के लिए आवेदन कर सकते हो. यदि आप कोई कृषि यंत्र खरीद रहे हैं तो आप यहाँ से अनुदान प्राप्त करने के लिए टोकन जेनेरेट कर सकते हो. हम निचे आपको इसकी सभी सेवाओं के बारे में बता रहे हैं. 

  • यंत्र हेतु टोकन जनरेट करें
  • इनसीटू की नयी व्यवस्था में टोकन जनरेट करें
  • अबतक जारी किये गये टोकन का विवरण
  • योजनावार यंत्रवार टोकन रिपोर्ट
  • योजनावार जनपदवार टोकन रिपोर्ट
  • निर्माता कम्पनियों / फर्मो की इम्पैनलमेन्ट की सूची
Up Agriculture Yantra Token Generate
Up Agriculture Yantra Token Generate

UP Agriculture 81 अनुदान भेजने की स्तिथि कैसे जाने

यदि आपने कृषि अनुदान के लिए आवेदन किया है और आप जानना चाहते हैं की आपके आवेदन की स्तिथि क्या है, तो इसके लिए आप निचे दिए स्टेप्स को फॉलो कीजिये.

  1. इसके लिए सबसे पहले यूपी एग्रीकल्चर की अधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा.
  2. उसके बाद होमपेज पर “अनुदान खाते में भेजने की प्रगति जानें” पर क्लिक करना होगा.
  3. अब अगले पेज में आपको कुछ डिटेल्स एंटर करना होगा. जैसे यहाँ आपको जनपद, ब्लाक, और किसान पंजीकरण संख्या एंटर करना होगा फिर आपको खोजे पर क्लिक करना होगा.
  4. इस प्रकार से आप अपने अनुदान प्रगति स्तिथि चेक कर सकते हो.

UP Kisan Panjikaran – पंजीकरण संख्या कैसे जाने?

यदि आप अपना किसान पंजीकरण संख्या भूल गये हैं तो आप निचे बताये गये स्टेप्स को फॉलो करके आसानी से अपनी पंजीकरण संख्या जान सकते हो. हम आपको निचे में कुछ आसान स्टेप्स बता रहे हैं, जिसे आप आसानी से फॉलो करके अपनी पंजीकरण संख्या जान सकते हो-

  • इसके लिए सबसे पहले आपक्प यूपी एग्रीकल्चर के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. आप इस लिंक पर क्लिक करके भी वेबसाइट पर जा सकते हो.
  • अब होमपेज पर आपको “अपना पंजीकरण नंबर जाने” आप्शन पर क्लिक करना होगा. 
  • उसके बाद अगले पेज में आपको “अपना पंजीकरण नंबर जानें” लिंक पर क्लिक करना होगा. 
  • अगले पेज में आपको कुछ जानकारी जैसे जनपद, ब्लाक, किसान आईडी, मोबाइल नंबर, खाता संख्या एंटर करना होगा. 
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको Search बटन पर क्लिक करना होगा. 
  • उसके बाद आपके सामने सभी डिटेल्स शो होने लगेगी.

Direct Benefit Transfer Tracking System

यदि आप जानना चाहते हैं की आपके खाते में कब और कितना पैसा किसान विभाग की तरफ से भेजा गया है. तो आप निचे बताये स्टेप्स को फॉलो करके आसानी से जान सकते हो.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको DBT Agriculture के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. 
  • उसके बाद आपको होमपेज पर “अनुदान खाते में भेजने की प्रगति जानें” आप्शन पर क्लिक करना होगा. 
  • फिर उसके बाद आपको अगले पेज में जनपद, ब्लाक और किसान पंजीकरण संख्या एंटर करना होगा. 
  • सभी जानकारी एंटर करने के बाद आपको खोजें बटन पर क्लिक करना होगा. उसके बाद आपके सामने सारी रिपोर्ट्स दिखाई देने लगेगी. 

कृषकों हेतु सुविधाये एवं अनुदान

  • संकर धान पर 130 रूपये प्रति किलो तक तथा संकर मक्का व संकर ज्वार पर 100 रूपये प्रति किलो तक अनुदान।
  • सामान्यधान एवं गेहूं बीज की चयनित प्रजातियों पर 2 रूपये से 14 रूपये प्रति किलो तक अनुदान। दलहनी बीजों पर 40 से 45 रूपयेप्रति किलो व तिलहनी बीजों पर 33 से 40 रूपये प्रति किलो अनुदान ।
  • तिल के बीज पर बुन्देलखण्ड के किसानों को 90 प्रतिशत तथा अन्य क्षेत्र के किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान |
  • 2 और 3 हार्सपावर के सोलर पम्प पर 70 प्रतिशत तथा 5 हार्सपावर के सोलर पम्प पर 40 प्रतिशत अनुदान |
  • कृषि यंत्रों पर 20 से 50 प्रतिशत तक अनुदान|
  • कस्टम हायरिंग सेन्टर पर 40 प्रतिशत तथा फार्म मशीनरी बैंक पर 80 प्रतिशत अनुदान ।
  • स्प्रिंकलर सेट पर 90 प्रतिशत तक अनुदान।
  • कृषि रक्षा रसायनों पर 50 प्रतिशत अनुदान।
  • बखारी पर 50 प्रतिशत अनुदान।
  • जिंक सल्फेट पर 50 प्रतिशत अनुदान।
  • जिप्सम पर 75 प्रतिशत अनुदान।
  • माइक्रो न्यूट्रियन्ट पर 50 प्रतिशत अनुदान।
  • बेरोजगार कृषि स्नातको के लिए एग्री जंक्शन योजना।
  • किसानों के ज्ञानवर्धन के लिए प्रदेश के अन्दर तथा बाहरप्रशिक्षणएंव भ्रमण की योजना।

UP Agriculture 81 – Complaint File / यूपी किसान पोर्टल के माध्यम से शिकायत दर्ज कैसे करें?

यदि आप किसी प्रकार की शिकायत उत्तर प्रादेश के कृषि विभाग के पास करना चाहते हो तो आप निचे बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो करे बहुत आसानी से अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हो. तो चलिए इसके प्रोसीजर को जानते हैं.

  1. सबसे पहले यूपी एग्रीकल्चर विभाग की अधिकारिक वेबसाइट में जाएँ.
  2. अब यहाँ होमपेज पर आपको लेफ्ट साइड में “सुझाव एवं शिकायतें” वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.

  1. अब अगले पेज में भी कई तरह के आप्शन आपके सामने होंगे. यहाँ पर आपको “किसानों एवं संबंधितों के लिए” व्वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.

  1. अब आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा. इसमें आपको अपने बारे में जानकारी और कंप्लेंट भरना होगा. जैसे यहाँ पर अपना नाम, पता, जनपद, विकास खंड, शिकायत की जानकारी, फ़ोन नंबर, ईमेल (यदि हो तो) भरने के बाद “ऊपर दी गयी सभी जानकारी सही है” को टिक करना होगा फिर सबमिट कर देना होगा.

इस तरह से आप उत्तर प्रदेश की किसान विभाग के पास आसानी से अपनी शिकायत पहुंचा सकते हो. ये बहुत ही अच्छा विकल्प है. जिससे आप घर बैठे अपनी परेशानी से बारे में बता सकते हो. इससे सरकार आपकी सहायता करेगी.

UP Agriculture यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें

यदि आप कोई कृषि यंत्र खरीद रहे हैं तो इसके लिए आप अनुदान प्राप्त कर सकते हो. यूपी के निवासी निचे बताये गये स्टेप्स को फॉलो कर यंत्र अनुदान के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको UP Agriculture के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करके भी जा सकते हो.
  • उसके बाद आपको होमपेज पर “यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें” लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज आ जायेगा. इस पेज में आपको “यंत्रों हेतु टोकन जनरेट करें” आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • उसके बाद आपके सामने एक फॉर्म आ जायेगा. इस फॉर्म में आपको अपना जनपद, पंजीकरण संख्या का विकल्प, और पंजीकरण संख्या भरना होगा.
  • उसके बाद आपको खोजें बटन पर क्लिक करना होगा.
  • फिर आपको निचे यंत्र सेलेक्ट करना होगा.
  • और आगे बढे वाले आप्शन को सेलेक्ट करना होगा.
  • अब आपका अनुदान टोकन जनरेट हो गया होगा. इस प्रकार से आप अनुदान के लिए टोकन निकल सकते हो.

UP Agriculture Yatra Token – यंत्रो पर अनुदान हेतु जारी किए गए टोकन की रिपोर्ट

यदि आप यंत्रों पर अनुदान हेतु जारी किये गये टोकन की रिपोर्ट देखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको निचे बताये गये कुछ आसान स्टेप्स को फॉलो करना होगा.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको UP Agriculture के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करके भी जा सकते हो.
  • उसके बाद आपको होमपेज पर “यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें” लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • अब अगले पेज में आपको “अबतक जेनरेट किये गये” वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज आ जायेगा. इस पेज में आपको कुछ डिटेल्स सेलेक्ट करना होगा. जैसे की वित्तीय वर्ष, योजना, जनपद, यंत्र सेलेक्ट करना होगा.
  • उसके बाद निचे आपको सभी रिपोर्ट्स दिखाई देने लगेंगे. इस प्रकार से आप यंत्रों के अनुदान की रिपोर्ट ऑनलाइन देख सकते हो.
Up Agriculture Anudan Report
Up Agriculture Anudan Report

यंत्र अनुदान हेतु UP Agriculture 81 बिल अपलोड कैसे करें?

यदि आपने किसान यंत्र अनुदान के लिए टोकन जेनरेट कर लिया है तो अब आपको यंत्र का बिल अपलोड करना होगा. जबही आपको अनुदान भेजा जायेगा. हम आपको निचे कुछ स्टेप्स बता रहे हैं, जिससे आप आसानी से यंत्र की बिल अपलोड कर पाएंगे.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको UP Agriculture के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करके भी जा सकते हो.
  • उसके बाद आपको होमपेज पर “यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें” लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा. इस पेज में आपको “बिल अपलोड करें” आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा. इस पेज में आपको किसान पंजीकरण संख्या भरना होगा और फिर टोकन संख्य भरना होगा.
Up Agriculture Bill Upload
Up Agriculture Bill Upload
  • उसके बाद ‘आगे बढ़ें‘ वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपको अपने बिल का विवरण भरना होगा और फिर बिल को अपलोड करना होगा.
    इस प्रकार से आप यंत्रा अनुदान के लिए बिल अपलोड कर पाएंगे.

DBT Agriculture UP गन्ना विभाग की योजनाओं हेतु ऑनलाइन पंजीकरण

यदि आप गन्ना विभाग की योजनाओं का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा. हम आपको निचे कुछ आसान स्टेप्स बता रहे हैं, जिससे आप अपना रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको यूपी एग्रीकल्चर के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • अब होमपेज पर आपको “पंजीकरण करें” वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज आयेगा. इस पेज में आपको “गन्ना विभाग की योजनाओं हेतु” सेक्शन में “ऑनलाइन पंजीकरण करें” लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • अब अगले पेज में आपसे पूछा जायेगा की आप किसान के रूप में पंजीकृत हैं या नहीं.
  • अगर नही है तो आपको पहले किसान रजिस्ट्रेशन करना होगा.
  • “हाँ” सेलेक्ट करने के बाद अगले पेज में आपको अपना जनपद, ब्लॉक, और पंजीकरण संख्या भरना होगा.
  • उसके बाद Search बटन पर क्लिक करें.
Up Agriculture Ganna Registration
Up Agriculture Ganna Registration
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज आयेगा. इसमें आपको अपना किछ डिटेल्स भरना होगा.
  • उसके बाद आपको फॉर्म सबमिट कर देना होगा.

UP Agriculture 81 उद्यान विभाग की योजनाओं हेतु

  • इसके लिए सबसे पहले आपको UP Agriculture की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करके भी जा सकते हो.
  • उसके बाद होमपेज पर आपको “पंजीकरण करें” वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब एक नया पेज ओपन होगा. इस पेज में आपको “उद्यान विभाग की योजनाओं हेतु” सेक्शन में “ऑनलाइन पंजीकरण करें” आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब एक नया पेज ओपन होगा. यहाँ आपसे पूछा जायेगा की आप किसान के रूप में रजिस्टर हैं या नही. अगर नही है तो पंजीकरण करना होगा.
  • उसके बाद आपको अपना जनपद, ब्लॉक, और पंजीकरण संख्या भरना होगा.
  • उसके बाद आपको “Search” बटन पर क्लिक करना होगा.
Up Agriculture Udyan Khady Registration
Up Agriculture Udyan Khady Registration
  • अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जायेगा. इसमें आपको कुछ डिटेल्स भरना होगा.
  • सभी जानकारी भरने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें.

UP Agriculture PM-KISAN किसान क्रेडिट कार्ड हेतु किसान का डायरेक्ट आवेदन करे

यदि आप PM KCC के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए निचे दिए बताये गये स्टेप्स को फॉलो करना होगा.

  • सबसे पहले आपको यूपी एग्रीकल्चर के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसपर जाने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
  • होमपेज पर, “किसान क्रेडिट कार्ड हेतु आवेदन” के आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आप एक नये वेबसाइट आ जायेंगे. इसमें आपको “नया आवेदन करें” वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब एक नया पेज खुलेगा, जिसमे आपको अपना जनपद चुनना होगा और आधार संख्या या पीएम किसान पंजीकरण संख्या एंटर करना होगा.
  • उसके बाद खोजे बटन पर क्लिक करें.
Pm Kcc New Apply
Pm Kcc New Apply
  • अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जायेगा. इसमें आपको पूछे गये सभी जानकारी भरना होगा.
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको फॉर्म को सबमिट करना होगा.
  • इस प्रकार से आप पीएम क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हो.

UP Agriculture PM Kisan Credit Card Status Check Online

यदि आपने पीएम किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर दिया है तो आप ऑनलाइन माध्यम से आवेदन की स्तिथि भी चेक कर सकते हो. इसके लिए हम आपको कुछ सिंपल स्टेप्स बताने जा रहे हैं.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको PM KCC की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा. इसके लिए इस लिंक पर क्लिक करके जा सकते हैं.
  • उसके बाद आपको “आवेदन की स्तिथि” सेक्शन में “पंजीकरण संख्या से खोजें” वाले आप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अगले पेज में आपको अपना पीएम किसान पंजीकरण संख्या भरना होगा.
  • उसके बाद खोजें बटन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके स्क्रीन पर आवेदन की स्तिथि दिखाई देने लगेंगे.

कृषि यंत्र व कृषि रक्षा उपकरण हेतु चयन की स्थिति जानें :

Up Agriculture Krishi Yantra Status
Up Agriculture Krishi Yantra Status

DBT Agriculture UP किसान पंजीकरण संख्या जाने

यदि आप अपना किसान पंजीकरण संख्या भूल गये है तो आप आसानी से अपना पंजीकरण संख्या पता कर सकते हैं. इसके लिए हम आपको निचे कुछ सिंपल स्टेप्स बता रहे हैं.

  • सबसे पहले यूपी किसान एग्रीकल्चर की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ.
  • उसके बाद होमपेज पर “अपना पंजीकरण नंबर जाने” आप्शन पर क्लिक करें.
  • उसके बाद अगले पेज में आपको “अपना पंजीकरण नंबर जाने” लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज आ जायेगा. इस पेज में आपको नाम, किसान आईडी, मोबाइल नंबर, खाता संख्या से किसान पंजीकरण संख्या देखने का आप्शन है.
  • आप अपने अनुसार किसी भी विकल्प को चयन करके अपना पंजीकरण संख्या खोज पाएंगे.
Up Agriculture Kisan Reg Forget
Up Agriculture Kisan Reg Forget

UP Agriculture 81 Corona Update for Farmer

अभी जैसा की आप सभी को पता होगा की पूरी दुनियां में कोरोना virus का प्रकोप चल रहा है. इसको देखते हुए सरकार ने हमारे देश में lockdown घोषित कर दिय है. अभी lockdown का तीसरा चरण चल रहा है. सरकार ने देश के सभी कारोबार को बंद करा दिया था. लेकिन अभी उत्तर प्रदेश के किसान भाइयों के लिए सरकार की तरफ से एक बहुत महत्त्वपूर्ण घोषणा की गयी है. इसके बारे में सभी किसान भाइयों को पता होना जरुरी है. तो चलिए हम इन घोषणाओं के बारे में जानते हैं.

  • कृषि मंत्री ने कोरोना राहत पैकेज को सराहा है. कहा सभी वर्गों के किसानों को इसका लाभ दिया जायेगा.
  • अन्नदाता किसान: कृषि कार्य को मिली छुट: अभी अब कसन भाई को lockdown से छूट मिली है. अभी वो अपने खेत का काम कर सकते हैं. इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए इसके अधिकारिक वेबसाइट में जाएँ.

Portal New Updates:

·        पहले बैंक ड्राफ्ट लाओ पहले सोलर पंप पाओ
·        INSITU यंत्रो की नयी व्यवस्था में अपलोडिंग की प्रगति रिपोर्ट
·        Bill Monitoring System – Directorate of Agriculture
·        कृषि यंत्रों के DBT की प्रगति (सोलर पंप के अतिरिक्त)
·        सोलर पंप लाभार्थी चयन सत्यापन प्रगति
·        किसान सहायता
·        सुझाव एवं शिकायतें
·        IFSC कोड खोंजे
·        यंत्रों की भौतिक लक्ष्य की चयन के सापेक्ष प्रगति रिपोर्ट
·        द मिलियन फारमर्स स्कूल (किसान पाठशाला) प्रतिभागी कृषक सूची
·        मृदा स्वास्थ्य कार्ड अनुश्रवण तंत्र
·        प्रमोशन ऑफ एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन फार इन – सीटू मैनेजमेंट ऑफ क्राप रेजिड्यू योजना अन्तर्गत कृषि यंत्रों का विवरण
·        35 कॉलम की लाभार्थीवार रिपोर्ट
·        डी० बी० टी० के माध्यम से वितरित अनुदान के लाभार्थियों की विस्तृत सूची
·        फार्म मशीनरी बैंक के लिए समूह पंजीकरण की सूची
·        उद्यान ए़वं खाद्य प्रसंस्करण विभाग उत्तर प्रदेश की योजनाओं के लिए पंजीकरण
·        ग्राम स्तर पर स्थानीय उद्यमियों के द्वारा मृदा परीक्षण प्रयोगशाला की स्थापना हेतु आवेदन
·        CRM Implements Empanelment

UP DBT Agriculture Contact Information

UP Agriculture Registration and DBT Helpline Number

7235090578, 7235090574 (on working day)

6392175756 (Relating to land conservation)

Email- dbt.validation@gmail.com

Email- kdsupdbt@gmail.com (Related to Land Conservation)

UP Agriculture 81 Kisan Samman

कृषकों हेतु सुविधाये एवं अनुदान

  • संकर धान पर 130 रूपये प्रति किलो तक तथा संकर मक्का व संकर ज्वार पर 100 रूपये प्रति किलो तक अनुदान ।
    • सामान्यधान एवं गेहूं बीज की चयनित प्रजातियों पर 2 रूपये से 14 रूपये प्रति किलो तक अनुदान। दलहनी बीजों पर 40 से 45 रूपयेप्रति किलो व तिलहनी बीजों पर 33 से 40 रूपये प्रति किलो अनुदान ।
    • तिल के बीज पर बुन्देलखण्ड के किसानों को 90 प्रतिशत तथा अन्य क्षेत्र के किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान |
    • 2 और 3 हार्सपावर के सोलर पम्प पर 70 प्रतिशत तथा 5 हार्सपावर के सोलर पम्प पर 40 प्रतिशत अनुदान |
    • कृषि यंत्रों पर 20 से 50 प्रतिशत तक अनुदान|
    • कस्टम हायरिंग सेन्टर पर 40 प्रतिशत तथा फार्म मशीनरी बैंक पर 80 प्रतिशत अनुदान ।
    • स्प्रिंकलर सेट पर 90 प्रतिशत तक अनुदान।
    • कृषि रक्षा रसायनों पर 50 प्रतिशत अनुदान।
    • बखारी पर 50 प्रतिशत अनुदान।
    • जिंक सल्फेट पर 50 प्रतिशत अनुदान।
    • जिप्सम पर 75 प्रतिशत अनुदान।
    • माइक्रो न्यूट्रियन्ट पर 50 प्रतिशत अनुदान।
    • बेरोजगार कृषि स्नातको के लिए एग्री जंक्शन योजना।
    • किसानों के ज्ञानवर्धन के लिए प्रदेश के अन्दर तथा बाहरप्रशिक्षणएंव भ्रमण की योजना।
  • अधिक जानकारी के लिए अपने जनपद के उप कृषि निदेशक से सम्पर्क करें।

upagriculture.com 81 Krishi Yantra Anudan panjikaran

  
1शुगर केन प्लांटर / कटर
2स्प्रिंग लोडेड 9 टाइन कल्टीवेटर
36 लेवलर
47 टाइन रिजिड कल्टीवेटर
5ट्रैलिंग हैरो (10 डिस्क हैवी टाइप)
6रिजर (3 फरो)
7पावर थ्रेसर (4पहिया)
8

पावर विनोइंग और डिस्क हैरो 12 डिस्क माउंटेड

9रीपर बाइंडर
10मैज थ्रेसर
11पैडी रीपर
12राइस ट्रांस प्लांटर
13हैरो (6 डिस्क)
143 टाइन काल्टीवेटर
15हैरो 8 डिस्क टी.टी.
16पावर स्प्रैयर
17जीरो टिलेज सीड कम फर्टी ड्रिल
18बंड फार्मर (ब्लेड टाइप)
19सूरजमुखी पावर थ्रेसर
20

पैडी पडलर ट्रैक्टर माउंटेड वर्टीकल कंवेयर रीपर

21आटोमेटिक पोटेटो प्लांटर
22मल्टीक्राप थ्रेसर
23

सेमी आटोमेटिक पोटेटो प्लांटर

24

8 रो सेल्फ प्रोपेल्ड राइस ट्रांस प्लांटर

255 टाइन कल्टीवेटर
26शाबाश प्लाऊ (6)
27पैडी थ्रेसर
28ऊसाई पंखा
29ब्रास नैपसेक स्प्रेयर
30ट्री गार्ड
31अष्टाकार हैंड मेज शेलर
32ग्राउंड नट डिकोरटीकेटर
33स्ट्रारीपर
34स्ट्राचोपर
35रोटावेटर
36रोटरी सीडर
37लैन्डलेजर लेवलर
38हे रैक
39हैप्पी सीडर
40रिवर्सेबुल प्लाऊ
41बेलर
42न्यूमेटिक प्लान्टर
43ड्रम सीडर

UP DBT Agriculture 81 District wise List 2022

No. Name of District
1 Balrampur – बलरामपुर
2 Aligarh – अलीगढ
3 PrayagRaj – प्रयागराज
4 Ambedkar Nagar – आंबेडकर नगर
5 Amroha – अमरोहा
6 Banda District – बाँदा जिला
7 Azamgarh – आजमगढ़
8 Badaun – बदौन
9 Bahraich – बहरैच
10 Ballia – बलिया
11 Basti – बस्ती
12 Auraiya – औरैया
13 Barabanki – बाराबंकी
14 Bareilly – बरेल्ली
15 Agra – आगरा
16 Bijnor –बिजनोर
17 Hathras – हाथरस
18 Chandauli(Varanasi Dehat) – चंदौली
19 Chitrakoot –चित्रकोट
20 Deoria – डोरिया
21 Etah – एताह
22 Etawah – इतावाह
23 Faizabad – फैजाबाद
24 Farrukhabad – फर्रुखाबाद
25 Jaunpur District – जौनपुर जिला
26 Firozabad – फिरोजाबाद
27 Hamirpur – हमीरपुर
28 Ghaziabad – गजियाबाद
29 Ghazipur – गाजीपुर
30 Gonda – गोंडा
31 Gorakhpur – गोरखपुर
32 Gautam Buddha Nagar – गौतम बुद्ध नगर
33 Hapur District – हपुर
34 Hardoi – हरदोई
35 Bulandshahr – बुलंदशहर
36 Fatehpur – फतेहपुर
37 Jhansi – झाँसी
38 Kannauj –कन्नौज
39 Kanpur Dehat – कानपूर देहात
40 Kanpur Nagar – कानपूर नगर
41 Kasganj – कासगंज
42 Kaushambi – कौशाम्बी
43 Kushinagar – कुशीनगर
44 Lakhimpur Kheri – लक्ष्मीपुर खेरी
45 Lalitpur – ललितपुर
46 Lucknow – लखनऊ
47 Maharajganj – महाराजगंज
48 Mahoba – महोबा
49 Mainpuri – मैनपुरी
50 Mathura – मथुरा
51 Mau – मौ
52 Meerut – मेरठ
53 Mirzapur – मिर्ज़ापुर
54 Moradabad – मोरादाबाद
55 Muzaffarnagar – मुज़फ्फरनगर
56 Pilibhit – पीलीभीत
57 Saharanpur – सहारनपुर
58 Rae Bareli – राए बरेली
59 Rampur – रामपुर
60 Pratapgarh – प्रतापगढ़
61 Sant Kabir Nagar – संत कबीर नगर
62 Sant Ravidas Nagar – संत रविदास नगर
63 Sitapur – सीतापुर
64 Shahjahanpur – शाहजहांपुर
65 Shamli – शामली
66 Shravasti – श्रावस्ती
67 Siddharthnagar – सिद्धार्थ नगर
68 Sambhal – संभाल
69 Sonbhadra – सोनभद्र
70 Sultanpur – सुल्तानपुर
71 Unnao – उन्नाव
72 Varanasi (Kashi) – वाराणसी
73 Bagpat – बागपत
74 Amethi – अमेठी
75 Allahabad – अल्लाहाबाद

FAQs Regarding UP Agriculture

UP Agriculture Registration कैसे करें?

आप यूपी एग्रीकल्चर के अधिकारिक वेबसाइट में जाकर किसान पंजीकरण कर सकते हैं. इसके बारे में डिटेल्स मयूपर में बताया गया है.

UP PM Kisan Samman Nidhi के लिए Online Apply कैसे करें?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन करने के लिए उत्तर प्रदेश के किसान को सबसे पहले UP Agriculture Department में login करना होगा. फिर उके बाद इस योजना के लिए ऑनलाइन अवेदंका option दिखाई देगा. उसपर click करने के बाद कुछ जानकारी भरना होगा, फिर आप इस योजना का लाभ उठा पाएंगे.

क्या आवेदन करने का कोई दूसरा तरीका है?

नही, अछुक व्यक्ति उत्तर प्रदेश के कृषि विभाग की अधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ही किसान रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. अगर आपको नही करने आता है तो किसी साइबर कैफ़े में जाकर भी करा सकते हो.

रजिस्ट्रेशन के लिए वेबसाइट काम नही कर रह है?

कभी कभी ओवरलोडिंग के कारण किसान रजिस्ट्रेशन के लिए वेबसाइट काम नही करता है. इसलिए यदि अभी काम नही कर रहा है तो थोडा wait कीजिये. अभी तक सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन के लिए कोई अंतिम तिथि घोषित नही किया गया है.

क्या में CSC सेवा केंद्र से ऑनलाइन आवेदन करा सकता हूँ?

जी हाँ, आप अपने नजदीकी csc सेवा केंद्र में जाकर भी ऑनलाइन किसान पंजीकरण करा सकते हैं. इसके लिए आपको आवश्यक दस्तावेजों को साथ में लेकर जाना होगा.

क्या पीएम किसान सम्मान निधि के लिए आधार कार्ड अनिवार्य है?

हाँ, यदि आपके पास आधार कार्ड नही है तो आप किसान रजिस्ट्रेशन नही करा सकते हो. इसके लिए आपको पहले आधार कार्ड बनवाना होगा.

मेरे आधार कार्ड में मोबाइल नही है, क्या करें?

यदि आपके आधार में मोबाइल नंबर add नही किया हुआ है तो आप यदि वहाँ बायोमेट्रिक का विकल्प आ रहा ही तो आप finger print के द्वारा भी फार्मर रजिस्ट्रेशन कर सकते हो.

में अपना पंजीकरण कैसे करूँ?

किसान पंजीकरण करने के लिए upagriculture.com site में “पंजीकरण करें” पर जाइये. फिर “ऑनलाइन पंजीकरण” पर जाकर अपनी डिटेल्स एंटर कर पंजीकरण कर सकते हैं.

पंजीकरण फीस कितनी है?

पंजीकरण पुर्णतः निःशुल्क है.

पंजीकरण के लिए किन दस्तावेजों की जरुरत होगी?

  1. आधार कार्ड
  2. खतौनी
  3. बैंक पास बुक के पहले पेज की कॉपी

कृषि विभाग में पंजीकरण का क्या लाभ है?

कृषि विभाग द्वारा बीजों पर, कृषि रक्षा रसायनों, कृषि यंत्रों, व् कृषि रक्षा उपकरणों पर अनुदान दिया जाता है. पंजीकरण के साथ ही आप अपनी मांग कर सकते हैं. यह अनुदान केवल पंजीकृत कृषकों को ही उपलब्ध है.

पंजीकरण की रसीद कहाँ से मिलेगी?

पंजीकरण रसीद के लिए upagriculture.com site पर “पंजीकरण करें” पर जाइये फिर “ऑनलाइन पंजीकरण करें” को क्लिक कर “किसान पावती के लिए जनपद चुने” से पंजीकरण पावती का प्रिंट आउट निकल सकते हैं.

मेरा पंजीकरण संख्या हो गया है, में अपना पंजीकरण संख्या कैसे जानू?

पंजीकरण संख्या जानने के लिए upagriculture.com site के बाये ओर “किसान सहायता” के आप्शन से “अपना पंजीकरण नम्बर जाने” से पंजीकरण संख्या जान सकते हैं.

मेरे बैंक खाते में अनुदान प्राप्त नही हुआ है, में अपने अनुदान के प्रगति कैसे जानू?

इसके लिए upagriculture.com site के बाये ओर “अनुदान खाते भेजने की प्रगति जाने” आप्शन से जनपद, ब्लाक, और किसान पंजीकरण संख्या डालकर देख सकते हैं.

यदि पोर्टल पर अनुदान की राशि खाते में पहुंची हुई दिखाई दे रही है लेकिन किसान के खाते में नही आई है तो इसके लिए क्या करें?

इसके लिए निम्न कागजों के साथ जनपद पर सम्पर्क करें –

  1. बैंक पासबुक की अपडेट कॉपी
  2. रसीद (बिज खरीदते समय जो रासी प्राप्त की थी)

किसान क्रेडिट कार्ड के लाभ

प्रदेश में कार्यरत व्यवसायिक, ग्रामीण एवं सहकारी बैंकों के माध्यम से किसान के्रडिट कार्ड द्वारा कृषकों को पर्याप्त एवं समय से फसली ऋण उपलब्ध कराना शासन का उद्देश्य है, जिससे कृषक अपनी खेती एवं खेती सम्बन्धी अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति करते हुए कृषि विकास में अपना योगदान दे सके। किसान क्रेडिट कार्ड से निम्न लाभ है

  • अल्प अवधि में फसली ऋण के आवश्यकता की पूर्ति।
  • कृषि ऋण के समय से अदायगी पर प्रदेश/भारत सरकार द्वारा घोषित ब्याज दरों में कटौती का लाभ।
  • कठिनाई के दिनों में परिवार की आवश्यकताओं की पूर्ति।कृषि सम्बन्धी उपकरण की मरम्मत।
  • कृषि सम्बन्धी अन्य कार्यों में आवश्यक खर्चे का वहन।
  • कटाई उपरान्त खर्च का वहन।बाजार ऋण की अदायगी।
  • किसान क्रेडिट कार्ड से फसल बीमा योजनाओं, प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना एवं पुनर्गठित मौसम आधारित फसल बीमा के अन्तर्गत अधिसूचित फसलों के लिए, लिये गये फसली ऋण अनिवार्य आधार पर कवर।
  • कृषक दुर्घटना बीमा योजना से आच्छादन।

Samagra ID Online Check by Name | Online Apply | Samagra Portal ID

COVID-19 E-Pass Apply Online [State Wise Status Application Form Corona Lockdown Curfew Pass, Procedure

FAQs on UP AGRICULTURE

हाँ, यदि आप सरकारी किसान योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको किसान रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य होगा. जबहि आपको सरकारी योजनाओं एवं सुविधाओं का लाभ मिल पायेगा.Up Kisan Registration कैसे करें?

आप Up Kisan की अधिकारिक वेबसाइट पर http://upagriculture.com/Default_ENG.aspx पर जाकर किसान पंजीकरण कर सकते हो. इसके लिए स्टेप-वाइज जानकारी पोस्ट में ऊपर दी गयी है.

UP Agriculture PM-Kisan के लिए आवेदन कैसे करे?

यदि आप उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं और आप पीएम किसान के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको किसान पंजीकरण करना होगा. उसके बाद आप किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे. पीएम किसान के लिए आवेदन करते समय में आपको जमीन से सम्बन्धित दस्तावेज की जरुरत होगी.

में अपना किसान पंजीकरण संख्या कैसे प्राप्त कर सकता हूँ?

इसके लिए जब आप किसान पंजीकरण करेंगे for फॉर्म सबमिट करने के बाद आपको अंत में एक रिसीप्ट दिखाई देता है, इसमें आपका किसान पंजीकरण संख्या होगा. इसके अलावा आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भी पंजीकरण संख्या भेज दिया जाता है.

UP Agriculture Status Online कैसे चेक करें?

इसके लिए सबसे पहले आपको http://upagriculture.com वेबसाइट पर जाना होगा. उसके बाद आप Status Check वाले आप्शन पर क्लिक कर पंजीकरण संख्या एंटर कर पंजीकरण स्तिथि चेक कर पाएंगे.

क्या में ऑफलाइन तरीके से किसान पंजीकरण कर सकता हूँ?

जी हाँ, यदि आप अपने से Kisan registration नही कर पा रहे हैं तो आप अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र या सहज सेवा केंद्र में जाकर किसान पंजीकरण कर सकते हो. इसके लिए आपको अपने साथ सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को भी ले जाना होगा.

किसान पंजीकरण से क्या लाभ मिलेगा?

यदि आप ऑनलाइन किसान रजिस्ट्रेशन कर लेते हैं तो आपका नाम सरकार के सूची में चला जायेगा. जिससे सरकार जब भी किसानों के लिए कोई नई योजना लाएगी तो उसका लाभ सबसे पहले आपको दिया जायेगा.

क्या सरकारी सेवाओं का लाभ उठाने के लिए किसान पंजीकरण जरुरी है?

हाँ, यदि आप सरकारी किसान योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको किसान रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य होगा. जबहि आपको सरकारी योजनाओं एवं सुविधाओं का लाभ मिल पायेगा.

क्या अभी रजिस्ट्रेशन चालू है या नही?

हाँ, अभी आप किसान पंजीकरण कर सकते हैं.

Share on:

3 thoughts on “UP Agriculture, Kisan Registration, Status, Registration at upagriculture.com”

  1. nice article sir you are write great article , your are do so hard work because this article is verg length article. sir can I do guest post on your website

    Reply

Leave a Comment