Pradhanmantri Ujjwala Yojana: BPL New List 2022, Application Form, Online Apply

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2022 | Pradhanmantri Ujjwala Yojana BPL New List | Pradhanmantri Ujjwala Yojana Online Apply | Application Form Pdf

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 1 मई 2016 को की गई थी। इस योजना के तहत देश के करोड़ों महिलाओं को लाभ प्रदान किया जाएगा। आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को इसके तहत गैस सिलिंडर प्रदान किया जाएगा। इस लेख में हम पीएम उज्ज्वला योजना के बारे में पूरी जानकारी विस्तारपूर्वक जानने वाले हैं। जैसे उज्ज्वला योजना क्या है, इससे उद्देश्य, पात्रता एवं मापदंड, आदि के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी जानने वाले हैं। इसके अलावा हम इस योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया के बारे में भी जानकारी प्राप्त करेंगे। अतः आपसे अनुरोध है कि इस लेख को लास्ट तक अच्छे से जरूर पढ़ें।

जैसा कि आप सभी को पता होगा कि देश मे बहुत सारे महिलाएं आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण गैस सिलिंडर का इस्तेमाल नही कर पाते हैं। ये लोग कई तरह के ईंधन का इस्तेमाल करके खाना पकाते हैं। इन सभी ईंधन से कई तरह की प्रदूषण भी फैलता है, जिससे बीमारियाँ पनपती है। इसी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार ने देश की महिलाओं के लिए पीएम उज्जवला योजना की शुरुआत की है। इसके तहत आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को भी गैस इस्तेमाल करने का अवसर प्राप्त होगा। आगे इस लेख में हम योजना के बारे में विस्तार से जानकारी जानने वाले हैं।

Pradhanmantri Ujjwala Yojana 2022 BPL New List

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरुआत 1 मई 2016 को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया गया था. इस योजना को “स्वच्छ इंधन, बेहतर जीवन” नारे के साथ पुरे देश में शुरू किया गया है. इस योजना का लाभ विशेष कर आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को दिया जायेगा. ऐसे परिवार जो गरीबी रेखा से निचे अपना जीवन यापन करते हैं उन्हें इसका लाभ पहले प्रदान किये जायेंगे. इस योजना के तहत वर्ष 2019 तक 5 करोड़ परिवारों को लाभ प्रदान किया जा चूका है. आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को रियायती कीमत पर एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखती है. योजना के कार्यान्वयन के लिए 8000 करोड़ रुपया आवंटित किया गया है.

1 फरवरी 2022 को हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा बजट की घोषणा की गयी है और इस बजट में पीएम उज्ज्वला योजना का लाभ 1 करोड़ और भी लाभार्थियों तक पहुँचाने की घोषणा की गयी है. बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री द्वारा यह भी बताया गया है की कोविड-19 के लॉकडाउन पीरियड के दौरान बिना किसी रूकावट के इंधन की आपूर्ति की गयी है. जिससे लोगों को लॉकडाउन में इंधन के लिए इधर-उधर भटकने की आवश्यकता नही हुई है. इस बजट में गैस आधारित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाये गये हैं.

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना ओवरव्यू

योजना का नामप्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना
शुरू किया गयाप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा
लाभार्थीदेश के गरीब वर्ग की महिलाएं
उद्देश्यएलपीजी गैस सिलिंडर प्रदान करना
आवेदन मोडऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटhttps://pmuy.gov.in/

PM Ujjwala Yojana का उद्देश्य:

जैसा की आप सभी को मालूम होगा की देश के बहुत सारे आर्थिक रूप से कमजोर महिलाएं खाना पकाने के लिए लकड़ी व गोबर के उपले बनाकर उसका इस्तेमाल करती है. उन्हें लकड़ी इकठ्ठा करने के लिए भी काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. इससे उनके स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर पड़ता है. इसके अलावा रसोई के धुएं से भी कई स्वास्थ्य सम्बन्धित परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अतः प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का उद्देश्य महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है. ताकि आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को भी रियायती कीमतों पर रसोई गैस उपलब्ध कराया जा सके. इससे जीवाश्म इंधन के उपयोग से कारन ग्रामीण आबादी के लाखों लोगों के बिच स्वास्थ्य से सम्बन्धित खतरों को भी रोका जा सकेगा. महिलाओं और बेटियों को खाना पकाने के लिए स्वस्थ इंधन उपलब्ध कराया जायेगा.

पीएम उज्ज्वला योजना 2022

2011 की जनगणना के अनुसार जिन परिवारों का नाम बीपीएल सूचि में है, उन्हें मुफ्त गैस कनेक्शन प्रदान किया जायेगा. पहले बहुत सारे गरीब वर्ग की महिलाएं खाना पकाने के लिए रसोई गैस को अफ्फोर्ड नही कर पाती थी. वे लोग खाना पकाने के लिए लकड़ी और गोबर के उपले का इस्तेमाल करती थी. लेकिन पीएम उज्ज्वला योजना के तहत गरीब वर्ग के महिलाओं को रियायती कीमत पर एलपीजी गैस उपलब्ध कराया जायेगा. 1600 रूपये प्रत्येक परिवार को मुफ्त एलपिजी कनेक्शन के लिए प्रदान किये जायेंगे. इसके अलावा गैस भरवाने पर भी केंद्र सरकार की तरफ से मुआवजा प्रदान किये जायेंगे. सभी लाभार्थी को फ्री गैस सिलिंडर और खाना पकाने के लिए गैस चूल्हा मुफ्त में दिए जायेंगे.

योजना की मुख्य विशेषताएं:

  • इस योजना का लाभ देश के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को प्रदान किया जायेगा.
  • पीएम उज्ज्वला योजना का लाभ 2019 तक 5 करोड़ बीपीएल परिवारों को दिया जायेगा.
  • जिन परिवारों का नाम बीपीएल सूची में है उन्हें मुफ्त एलपीजी कनेक्शन प्रदान किये जायेंगे.
  • आर्थिक मामलों की मत्रीमंडलीय समिति (सीसीईए) ने अगले 3 साल के लिए 8000 करोड़ रूपये की मंजूरी दी है.
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों को गैस भरवाने पर अनुदान प्रदान किया जायेगा.
  • 2016 के बजट भाषण में योजना के बारे में घोषणा की गयी और वर्तमान वित्तीय वर्ष में 2000 करोड़ रूपये की बजट का प्रावधान किया गया है.
  • नये एलपीजी कनेक्शन को महिला लाभार्थी के नाम पर जारी किया जायेगा.
  • चूल्हे एवं रिफिल की लागत के लिए ईएमआई की सुविधा भी प्रदान की जाएगी.
  • महिलाओं को भोजन पकाने के लिए स्वस्थ इंधन मिलेगा.
  • इसका लाभ सभी बीपीएल कार्ड धारक को मिलेगा.
  • 1 फरवरी 2022 को वित्त मंत्री जी ने 1 करोड़ और भी नये लाभार्थी को इसका लाभ देने की घोषणा की है.

बजट एवं आवंटन

केंद्र सरकार पात्र बीपीएल परिवारों को एलपीजी कनेक्शन के लिए 1600 रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान करता है. नये एलपीजी कनेक्शन को महिला मुखिया के नाम पर जारी किया जाता है. सरकार गैस रिफिल के लिए ईएमआई की सुविधा भी प्रदान करेगा. सरकार द्वारा इस योजना के लिए क्रियान्वयन के लिए वित्तीय वर्ष 2016-17 से शुरू होने वाले अगले तीन वर्षों के लिए कुल 8000 करोड़ रूपये का बजट तैयार किया गया है. इसके अलावा सरकार ने योजना को शुरू करते समय 2016-17 में 2000 करोड़ रूपये का बजट पहले ही आवंटन किया था. वर्तमान वित्तीय वर्ष में भी वित्तीय मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने 1 करोड़ से अधिक बीपीएल परिवारों को इसका लाभ प्रदान करने की घोषणा की है. यह योजना प्रधानमंत्री के “गिव इट” अभियान के माध्यम से एलपीजी सब्सिडी में लगभग 5000 करोड़ रूपये बचा लिया है. पात्र बीपीएल परिवारों का पहचान राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के परामर्श से किया जाएगा। यह योजना तीन साल अर्थात् वित्तीय वर्ष 2016-17, 2017-18 और 2018-19 में लागू किया जाएगा।

Pradhanmantri Ujjwala Yojana 2022

ग्रामीण महिलाओं को स्वच्छ इंधन प्रदान करने की दिशा में भारत सरकार द्वारा उठाया गया सबसे महत्वपूर्ण कदम है. इस योजना की शुरुआत 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा की गयी थी. इस योजना के माध्यम से गरीबी रेखा के निचे जीवन यापन करने वाले 5 करोड़ परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिए जाने का लक्ष्य था जिसे 3 साल में यानि 2019 तक पूरा किया जाना था. बाद में इस योजना का लाभ 8 करोड़ परिवारों तक पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया. इस योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के महिला मुखिया के नाम से कनेक्शन जारी किया जायेगा. इस योजना के तहत लाभार्थी को गैस कनेक्शन मुफ्त दिया जाता है किन्तु गैस चूल्हा एवं पहली बार गैस भराने का खर्च लगभग 1500 रूपये लाभार्थी को देने होंगे. यदि लाभार्थी इस खर्च को वहन करने में असमर्थ है तो उसके लिए इस खर्च को चुकाने के लिए क़िस्त की सुविधा उपलब्ध है.

योजना का लाभ:

  • इस योजना के तहत गरीबी रेखा के निचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिलता है.
  • इससे महिलाओं को स्वच्छ एवं धुंवा रहित इंधन का प्रयोग कर सकेंगे.
  • इस योजना के तहत गरीब परिवारों को सब्सिडी दिया जायेगा. साथ ही अमीर लोगों को सब्सिडी छोड़ने का अनुरोध किया है.
  • पीएम उज्ज्वला योजना के लिए 8000 करोड़ रूपये का बजट तय किया गया है.
  • इस योजना के लागु होने से ग्रामीण महिलाओं का जो समय पारंपरिक इंधन लकड़ी, गोबर के उपले, फसलों के अपशिष्ट, आदि इकठ्ठा करने में लगता था, अब वह किसी सामाजिक आर्थिक कार्य में लगा सकता है.
  • इससे ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले महिलाओं के सामाजिक स्तर पर सुधार हुआ है.
  • गैस कनेक्शन महिला मुखिया के नाम से ही जारी किया जाता है.
  • महिलाओं को पारंपरिक इंधन से भोजन पकाने में बहुत सारे धुएँ का सामना करना पड़ता था जिससे उन्हें स्वांस, फेफड़े, आँख, एवं कैंसर सम्बन्धी जैसी गंभीर बिमारियों का खतरा बना हुआ होता है.
  • घर के अंदर वृद्ध, गर्भवती महिला और बच्चे हैं तो उनपर भी धुंवा हरिकारक प्रभाव डालता है.

पीएम उज्ज्वला योजना के लिए पात्रता

  • इस योजना का लाभ देश के सभी राज्य के लोगों को मिलेगा.
  • इसका लाभ गरीबी रेखा के निचे जीवन यापन कर रहे लोगों को ही मिलेगा.
  • आवेदक की आयु 18 से अधिक होना चाहिए.
  • इसके लिए केवल परिवार के महिलाएं ही पात्र है.
  • आवेदक एक बीपीएल कार्ड धारक ग्रामीण निवासी होना चाहिए.
  • सब्सिडी प्राप्त करने के लिए महिला आवेदक का देश के किसी राष्ट्रीयकृत बैंक में बचत खाता होना चाहिए.
  • आवेदक परिवार के घर पहले से एलपीजी कनेक्शन नही होना चाहिए.

जरुरी दस्तावेज:

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • पंचायत प्रधान / नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा अधिकृत बीपीएल प्रमाण पत्र
  • वोटर आईडी कार्ड
  • नवीनतम पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • आदि

उज्ज्वला योजना के लिए बीपीएल सूची में नाम कैसे खोजें?

यदि आप प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हो तो इसके लिए आपके पास बीपीएल कार्ड होना अनिवार्य है. यदि आपके पास पहले से बीपीएल राशन कार्ड है तो इसे स्किप कर सकते हो. हम आपको निचे बीपीएल लिस्ट में नाम खोजने की प्रक्रिया बता रहे हैं, इसके लिए निचे बताये गये स्टेप्स को ध्यान से फॉलो करें.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको इसके अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करके भी जा सकते हो.
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज आ जायेगा. इस पेज में आपको अपना राज्य, जिला, ब्लाक, पंचायत, आदि सेलेक्ट करना होगा.
  • उसके बाद निचे में ‘सबमिट‘ बटन पर क्लिक करें.
Blp List Name Search
Blp List Name Search
  • अब आपके सामने बीपीएल लाभार्थियों की सूचि आ जाएगी.
  • इस प्रकार आप आसानी से ऑनलाइन प्रकिया द्वारा बीपीएल सूची में अपना नाम खोज सकते हैं.

Pradhanmantri Ujjwala Yojana Application Form – आवेदन करने की प्रक्रिया

जो इच्छुक उम्मीदवार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं वे ऊपर दिए पात्रता एवं मापदंड को पढ़ लें. यदि आप योजना के लिए पात्र हैं तो आप किसी भी राज्य से हो, इसके लिए आपको ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा आवेदन करना होगा. अभी तक इसके लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू नही की गयी है. अतः आपको ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा आवेदन करने की जानकारी हम निचे बता रहे हैं.

ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का आवेदन फॉर्म और केवाईसी फॉर्म प्राप्त करना होगा. इसे आप किसी साइबर कैफ़े में जाकर प्राप्त कर सकते हो या फिर हम आपको निचे में फॉर्म डाउनलोड करने का लिंक दे रहे हैं. निचे दिए गये लिंक पर क्लिक करके पहले आवेदन फॉर्म और केवाईसी फॉर्म को डाउनलोड कर लीजिये.

फॉर्म डाउनलोड करने के बाद आपको इसे प्रिंट आउट कर लेना होगा. उसके बाद आपको फॉर्म में सभी जानकारी को ध्यान से भरना होगा. यदि आप पहली बार भर रहे हैं तो आपको हम आवेदन फॉर्म और केवाईसी फॉर्म को भरने की पूरी जानकारी बता रहे हैं.

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना आवेदन फॉर्म भरने की प्रक्रिया:

Pm Ujjwala Yojana Application Form Preview
Pm Ujjwala Yojana Application Form Preview
  • आवेदन फॉर्म में सबसे पहले आपको उपभोक्ता का प्रथम, मध्य, एवं अंतिम नाम, ऋण की आवश्यकता सम्बन्धित जानकारी, आदि भरना होगा.
  • निचे में आवेदक का नाम, पिता/पति का नाम, आयु, वर्ष, स्थायी पता, आदि भरना होगा.
  • फिर तिथि, स्थान, आवेदक का नाम और हस्ताक्षर करना होगा.
  • इस तरह आपका आवेदन फॉर्म भरा चला जायेगा.

केवाईसी फॉर्म भरने की प्रक्रिया:

  • इसमें सबसे पहले आवेदक का पासपोर्ट साइज़ फोटो ऊपर में चिपकाना होगा.
  • उसके बाद उपभोक्ता विवरण जैसे प्रथम नाम, मध्य नाम, अंतिम नाम, जन्म तिथि, पूरा पता, अदि भरना होगा.
  • उसके बाद क्रमांक (C) से 18 वर्ष से अधिक आयु के परिवार के सदस्यों का सम्बन्ध, नाम, आधार संख्या, आदि भरना होगा.
  • आवेदक का आधार कार्ड में नाम, आधार कार्ड संख्या, बैंक खाता विवरण, एवं राशन कार्ड विवरण को ध्यान से भरें.
  • उसी प्रकार निचे में भी आवेदक का नाम, पिता/पति का नाम, उम्र, पता, आदि भरना होगा.
  • अंत में तिथि, स्थान, आवेदक का नाम और हस्ताक्षर करना होगा.
  • फॉर्म के अंतिम में डीलर द्वारा कुछ जानकारी भरा जायेगा, उसे आपको नही भरना होगा.
  • इस प्रकार आपका केवाईसी फॉर्म भी भरा चला जायेगा.

फॉर्म भरने के बाद क्या करें?

यदि आपने आवेदन फॉर्म और केवाईसी फॉर्म को भर कर तैयार कर लिया है तो अब आपको सम्बन्धित दस्तावेजों को भी संलग्न कर लेना होगा. ध्यान रहे फॉर्म में आपने 18 वर्ष से अधिक आयु के जिन परिवारों का नाम भरा है, उन सभी का आधार कार्ड की प्रति को भी संलग्न करना होगा. उसके बाद आपको अपने नजदीकी गैस डीलर के पास जाना होगा. वहां से आपका नये कनेक्शन के लिए आवेदन पूरा हो जायेगा और फिर आपको एक आवेदन पावती भी दिया जायेगा. आवेदन के बाद निर्धारित समय में आपको अपना नया कनेक्शन प्राप्त करने के लिए जाना होगा. इस प्रकार आप आसानी से अपना गैस कनेक्शन प्राप्त कर पाएंगे.

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2022 के लिए राज्यों की सूची

राज्यलाभार्थीदेखने की लिंक
आंध्र प्रदेश1,22,70,164सूची देखें
अरुणाचल प्रदेश2,60,217सूची देखें
असम64,27,614सूची देखें
बिहार2,00,74,242सूची देखें
छत्तीसगढ57,14,798सूची देखें
गोवा3,02,950सूची देखें
गुजरात1,16,29,409सूची देखें
हरियाणा46,30,959सूची देखें
हिमाचल प्रदेश14,27,365सूची देखें
जम्मू और कश्मीर20,94,081सूची देखें
झारखंड60,41,931सूची देखें
कर्नाटक1,31,39,063सूची देखें
केरल76,98,556सूची देखें
मध्य प्रदेश1,47,23,864सूची देखें
महाराष्ट्र2,29,62,600सूची देखें
मणिपुर5,78,939सूची देखें
मेघालय5,54,131सूची देखें
मिजोरम2,26,147सूची देखें
नगालैंड3,79,164सूची देखें
ओडिशा99,42,101सूची देखें
पंजाब50,32,199सूची देखें
राजस्थान 1,31,36,591सूची देखें
सिक्किम1,20,014सूची देखें
तमिलनाडु1,75,21,956सूची देखें
त्रिपुरा8,75,621सूची देखें
उत्तराखंड19,68,773सूची देखें
उत्तर प्रदेश3,24,75,784सूची देखें
पश्चिम बंगाल2,03,67,144सूची देखें
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह92,717सूची देखें
चंडीगढ़2,14,233सूची देखें
दादरा और नगर हवेली66,571सूची देखें
दमन और दीव44,968सूची देखें
राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली33,91,313सूची देखें
लक्षद्वीप10,929सूची देखें
पुदुचेरी2,79,857सूची देखें

हेल्पलाइन नंबर

हमने इस लेख में आपको पीएम उज्ज्वला योजना से सम्बन्धित सभी महत्वपूर्ण जानकारी साँझा करने की कोशिश की है. यदि आपको इससे सम्बन्धित किसी तरह की समस्या हो तो आप हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते हो. हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क करने के बाद आपके समस्या को अधिकारीयों द्वारा जल्द ही ठीक कर दिया जायेगा. हम आपको निचे में उज्ज्वला योजना का हेल्पलाइन नंबर बता रहे हैं. इनपर कॉल करके आप अपनी समस्या को बता सकते हैं.

हेल्पलाइन नंबर: 18002333555 or 1906

Share on:

Leave a Comment

×