PM Kisan FPO Yojana 2022: Registration, Online Apply, Application Form (किसान एफपीओ योजना)

PM Kisan FPO Yojana Onine Apply | pm kisan fpo yojana online registration | pm kisan fpo yojana online apply | pm kisan fpo registration | pm kisan fpo yojana 2022 registration | pm kisan fpo yojana 2022 apply online | pm kisan fpo yojana registration form |pm kisan fpo yojana online form

PM Kisan FPO Yojana के बारे में अभी हाल ही में अनाउंसमेंट किया गया है. इस योजना को केद्र सरकार द्वारा देश के किसानों को आर्थिक लाभ पहुँचाने के लिए कर रहे हैं. इस योजना के अंतर्गत देश के FPO (किसान उत्पादक संगठनों) किसानों को सरकार द्वारा 15 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. इस योजना से किसानों को काफी फायदा पहुँचाने वाला है. आप देश के किसी भी राज्य हैं, फिर भी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हो. आज हम आपको इस पोस्ट में इसी योजना के बारे में जानकारी देने वाले हैं. अगर आप एक किसान हो तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत उपयोगी हो सकता है. हम आपको इस योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले हैं. हम आपको इस योजना के लिए पात्रता एवं योग्यता, दस्तावेज और आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी देने वाले हैं. इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़ें ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी मिल पाए.

आप सभी जानते होंगे की खेती करने में बहुत ज्यादा मेहनत लगता है और साथ ही काफी पैसे भी खर्च होते हैं. हमारे देश में ज्यादातर किसान गरीब परिवार से आते हैं तो ऐसे में बहुत से किसान कर्ज लेकर खेती करते हैं. बहुत से किसान पैसे की कमी के कारण खेती भी नही कर पाते हैं. अभी सरकार किसानों की मदद के लिए कई तरह की सरकारी योजना लेकर आ रहा है. जिससे देश के किसानों को खेती करने में बल मिलेगा.

अभी सरकार ने FPO किसान योजना को शुरू किया है. जिससे किसान उत्पादक संगठनों यानि FPO को 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेंगे. इस योजना का लाभ देश के 10000 उन नये किसान संगठनों को भी दिया जायेगा, जो कम्पनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड होंगे. आगे हम आपको इस योजना के बारे में विस्तार से जानकारी बताने वाले हैं. इस योजना के बारे में विस्तार से जानकारी निचे बताया हुआ है.

PM Kisan FPO Yojana Online Apply 2022 Registration Form

पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों को लाभ पहुँचाने के लिए की गयी है. इस योजना के तहत ऐसे किसान उत्पादक संगठनों को जो कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड हो, उन्हें सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान किया जायेगा. इन्हें 15 – 15 लाख रुपये तक की धनराशी वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी. जिससे ये किसानों की बेहतर खेती के लिए उन्हें मदद कर पाएंगे. इस योजना का लाभ उठाने के लिए यदि किसान संगठन मैदानी क्षेत्र में काम करता हो तो उससे कम से कम 300 किसान जुड़ा हुआ होना चाहिए. और यदि वे संगठन पहाड़ी क्षेत्र से जुदा हुआ हो तो कम से कम 100 किसान इस संगठन से जुड़े हुए होने चाहिए जबहि उन्हें इस योजना का लाभ मिल पायेगा.

इस योजना से गरीब किसानों को बहुत फायदा होने वाला है. क्योकि किसान संगठन द्वारा ऐसे किसानों को खेती के लिए आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी. जिससे उन किसानों के लिए बीज, खाद, दवाई और कृषि उपकरण खरीदना बेहद आसन हो जाएगी. संगठन द्वारा उन किसानो की पूरी तरह से देखभाल की जाएगी. इसके अलावा किसानों को फसल का अच्चा रेट भी मिल पायेगा.

FPO क्या है? What is FPO

ऊपर आपने कई जगहों में FPO पढ़ा होगा. बहुत से लोग FPO का मतलब नही समझ रहे होंगे तो में उन्हें बता दूँ की किसान उत्पादक संगठनों यानि किसानों का ऐसा समूह जो किसानों के हित के लिए कार्य करता हो और जो कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड हो, उसे हम एफपीओ कहते हैं. इस संगठन से सैकड़ों किसान जुड़े हुए होते हैं और यह किसानों को खेती करने के लिए हर प्रकार से मदद करता है. इससे छोटे और सीमांत किसानों को काफी फायदा मिलता है. क्योकि इस संगठन के माध्यम से उन्हें खेती करने के लिए सहायता की जाती है.

Pradhanmantri Kisan FPO Yojana Details

योजना का नामपीएम किसान एफपीओ योजना
शुरू किया गयाकेंद्र सरकार द्वारा
राज्यदेश के सभी राज्य
लाभार्थीदेश के किसान
आवेदन का तरीकाऑनलाइन/ऑफलाइन
उद्देश्यकिसानों को खेती के लियी मदद पहुचना
अधिकारिक वेबसाइटअभी उपलब्ध नही है.

FPO Kisan Yojana का उद्देश्य

जैसा की आप सभी को पता होगा की हमारे देश में बहुत से किसान गरीब परिवार से आते हैं. ऐसे में उनके पास खेती के लिए प्रयाप्त पैसे नही होते हैं, जिससे वे बीज, दवाई, खाद, और कृषि उपकरण आदि जरुरी सामान खरीद पाए. आप सभी बहुत अच्छे से जानते होंगे की खेती करने के लिए मेहनत के साथ साथ काफी पैसे भी खर्च होते हैं. कुछ छोटे किसान कर्ज लेकर भी खेती करते हैं तो कभी कभी आपदा के कारण फसल बर्बाद हो जाता है तो ऐसे में उन्हें बहुत नुकसान होता है. इसी कारण से बहुत से किसान आत्महत्या भी कर लेते हैं. ऐसे किसानों की मदद के लिए सरकार तरह तरह के योजनायें लाते रहता है. किसान एफपीओ योजना को शुरू करने का उद्देश्य भी गरीब किसानों की आर्थिक मदद करना ही है. सरकार किसी किसान संगठन को 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगा ताकि वे किसानों को खेती के लिए मदद कर पाए.

PM Kisan FPO Yojana Benefits:

  • पीएम किसान एफपीओ योजना का अर्थ है किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) यानी किसानों का एक समूह जो कंपनी अधिनियम के तहत पंजीकृत हैं और कृषि उत्पादक काम करते हैं। केंद्र सरकार किसानों के इन समूहों को 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत, सभी समान लाभ एक कंपनी को दिए जाएंगे, लेकिन यह संगठन सहकारी राजनीति से पूरी तरह से अलग होगा, यानी कंपनी का सहकारी अधिनियम नहीं होगा।
  • 10,000 नए उत्पादक संगठन बनेंगे, सरकार की मंजूरी के बाद, देश भर में 10,000 नए किसान उत्पादक संगठन बनाए जाएंगे। इसका पंजीकरण कंपनी अधिनियम में ही होगा, इसलिए इसे सभी समान लाभ मिलेंगे जो एक कंपनी को मिलते हैं।
  • वहीं, पर्वतीय क्षेत्र में इनकी संख्या 100 होगी। नाबार्ड कंसल्टेंसी सर्विसेज आपके काम को देखकर आपकी कंपनी का मूल्यांकन करेगी। इसके अलावा और भी कई शर्तें रखी गई हैं।
  • यह सदस्य उत्पादकों के लाभ के लिए काम करता है।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत, छोटे और सीमांत किसानों का एक समूह होगा।
  • इस समूह से संबंधित किसानों को न केवल अपनी उपज के लिए बाजार मिलेगा, बल्कि उर्वरक, बीज, दवाएं और कृषि उत्पाद आदि खरीदना आसान होगा।
  • वहीं, बिचौलियों से मुक्ति मिलेगी। एफपीओ प्रणाली में, किसान को अपनी उपज के अच्छे दाम मिलते हैं।
  • विशेषज्ञों के अनुसार, पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत, कम से कम 11 किसान संगठित होकर अपनी कृषि कंपनी या संगठन बना सकते हैं।
  • केंद्र सरकार कंपनी का काम देखने के बाद तीन साल में 15 लाख रुपये देगी।
  • इसके लिए, यदि संगठन क्षेत्र में काम कर रहा है, तो कम से कम 300 किसानों को इसके साथ जोड़ा जाना चाहिए।

एफपीओ योजना के लिए पात्रता एवं जरुरी दस्तावेज:

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए, आपके पास सभी भूमि का विवरण होना चाहिए।
  • पहचान पत्र की कॉपी जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, आदि।
  • आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस जैसे एड्रेस प्रूफ डॉक्यूमेंट की कॉपी। प्रमाण के साथ मान्य होने के लिए आवेदक
  • का वर्तमान पता होना चाहिए।
  • जमीन के दस्तावेज
  • जमीन का खसरा
  • भूमि की नकल
  • आवेदक का पासपोर्ट आकार का फोटो।
वर्गविवरण 
मैदान क्षेत्रों में कृषि संगठन की संस्थाएं?यदि किसानों का एक समूह खेत में काम कर रहा है, तो उन्हें कम से कम 300 किसानों का समूह बनाना होगा।यदि किसान 10 बोर्ड सदस्य बनाते हैं, तो एक बोर्ड सदस्य पर कम से कम 30 किसान समूह होने चाहिए।
पहाड़ी क्षेत्रों में किसानो की भागीदारीपहाड़ी क्षेत्र के लिए, Pm किसान एफपीओ योजना से जुड़े कम से कम 100 किसानों का होना आवश्यक है।इसके बाद ही उन्हें कंपनी का लाभ दिया जाएगा

पीएम किसान एफपीओ योजना प्रमुख लाभ

  • केंद्र सरकार कंपनी का काम देखने के बाद तीन साल में 15 लाख रुपये देगी।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत, सभी समान लाभ एक कंपनी को दिए जाएंगे, लेकिन यह संगठन सहकारी राजनीति से पूरी तरह से अलग होगा, यानी कंपनी के पास सहकारी अधिनियम नहीं होगा।
  • यह एक पंजीकृत निकाय और कानूनी इकाई है।
  • निर्माता संगठन में शेयरधारक हैं।
  • यह सदस्य उत्पादकों के लाभ के लिए काम करता है।
  • इसके लिए, यदि संगठन क्षेत्र में काम कर रहा है, तो कम से कम 300 किसानों को इसके साथ जोड़ा जाना चाहिए।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत, छोटे और सीमांत किसानों का एक समूह होगा।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना का अर्थ है किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) यानी किसानों का एक समूह जो कंपनी अधिनियम के तहत पंजीकृत हैं और कृषि उत्पादक काम करते हैं। केंद्र सरकार किसानों के इन समूहों को 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।
  • 10,000 नए उत्पादक संगठन बनेंगे, सरकार की मंजूरी के बाद, देश भर में 10,000 नए किसान उत्पादक संगठन बनाए जाएंगे। इसका पंजीकरण कंपनी अधिनियम में ही होगा, इसलिए इसे सभी समान लाभ मिलेंगे जो एक कंपनी को मिलते हैं।

Pradhanmantri Kisan FPO Yojana Online Apply Process:

इस योजना का लाभ केवल उन्ही किसानों को दिया जायेगा जो पीएम किसान के लिए पंजीकृत है. यदि आपने अभी पीएम किसान के लिए पंजीकरण नही किया है तो निचे बताये गये स्टेप्स को फॉलो करके किसान एफपीओ के लिए आवेदन कर सकते हो.

  • आधिकारिक वेबसाइट पीएम किसान एफपीओ योजना – किसान पंजीकरण अर्थात https://www.pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • किसी भी वेबसाइट पर सफलतापूर्वक जाने के बाद, आपको यहां “ किसान कॉर्नर” मेन्यू दिखाई देगा और आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको यहां “ नया किसान पंजीकरण ” करने के लिए एक लिंक दिखाई देगा , उस पर क्लिक करें।
  • यहां आपको अपना आधार नंबर डालना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुलेगा।
  • नीचे आपको कैप्चा कोड भरना होगा और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसमें आपसे कुछ बेसिक जानकारी पूछी जाएगी, आपको यहां वो जानकारी भरनी है।
  • आपका नाम मोबाइल नंबर आपका पूरा पता
  • इसके बाद, अपनी जमीन का पूरा विवरण भरें और आवेदन जमा करें।
  • इस तरह आप अपना किसान पंजीकरण सफलतापूर्वक कर सकते हैं
  • इसके बाद, आप अपने किसान पंजीकरण की ऑनलाइन स्थिति की जांच कर सकते हैं ।
Share on:

2 thoughts on “PM Kisan FPO Yojana 2022: Registration, Online Apply, Application Form (किसान एफपीओ योजना)”

Leave a Comment

×