Antyodaya Anna Yojana (AAY) Scheme Apply, Eligibility, List Check (ऑनलाइन आवेदन)

Antyodaya Anna Yojana AAY | AAY New List Check State wise | अन्त्योदय अन्न योजना लिस्ट

अन्त्योदय अन्न योजना को भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया है. इस योजना का उद्देश्य देश के ऐसे गरीब परिवार जो जिनके पास आय का कोई स्रोत नही है और इस स्तिथि में वे राशन भी नही खरीद पाते हैं, उनके राशन मुहैय्या कराना है. इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को सरकार द्वारा राशन उपलब्ध कराया जायेगा. इस लेख में हम Antyodaya Anna Yojana के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी जानने वाले हैं. जैसे की इस योजना की पात्रता एवं योग्यता, विशेषताएं, लाभ, आवेदन की प्रक्रिया, आदि के बारे में विस्तार से जानेंगे. अतः आपसे अनुरोध है की इस लेख को अंत तक अच्छे से जरुर पढ़ें ताकि आपको इससे सम्बन्धित पूरी जानकारी जानने को मिल सके.

जैसा की आप सभी जानते होंगे की हमारे देश की आबादी बहुत बड़ी है. इस बड़ी आबादी के बिच यहाँ हर तरह के लोग पाए जाते हैं, जिनमे अमीर, माध्यम वर्ग, और गरीब तबके के लोग शामिल है. एक नेशनल सर्वे के अनुसार हमारे देश के कुल आबादी का 5% लोग भोजन के बिना सोता है. इन लोगों के पास अनाज खरीदने के लिए कोई साधन नही होता है, जिससे वे भोजन पका कर खा सके. ऐसे ही निराश्रित लोगों के लिए सरकार ने अन्त्योदय योजना की शुरुआत की है. इस योजना से देश के उन लोगों को फायदा होगा जो अनाज खरीदने के लिए भी सक्षम नही है. आगे हम इस योजना के बारे में विस्तार से जानने वाले हैं.

Antyodaya Anna Yojana (AAY) 2022

अन्त्योदय योजना को केंद्र सरकार द्वारा देश के सभी राज्यों में शुरू किया गया है. इस योजना के अंतर्गत देश के ऐसे बेसहारा लोग जो अनाज खरीदने के लिए भी सक्षम नही हैं उन्हें बहुत कम कीमत में राशन प्रदान किया जायेगा. इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी केफयती कीमत में गेहूं, चावल, दाल, चना, चीनी, आदि खरीद सकते हैं. देश में ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिनके पास आय का कोई स्थिर साधन नही है और वे अपना गुजारा करने के लिए अनाज खरीदने में भी सक्षम नही हैं. इन सभी लोगों के लिए यह योजना काफी लाभदायक होगा. इस योजना के अंतर्गत शुरू में केवल 10 लाख परिवारों को शामिल किया गया था फिर बाद में और भी परिवारों को इसमें जोड़ा गया है.

उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजानिक वितरण मंत्रालय के तहत खाद्य और सार्वजानिक वितरण विभाग ने सभी पात्र विकलांग व्यक्तियों को राष्ट्रिय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत शामिल करने के लिए राज्य सरकारों / केंद्रशासित प्रदेशों को पत्रा भेजे हैं. जो परिवार इस योजना के तहत पात्र होंगे उन्हें अन्त्योदय राशन कार्ड दिया जायेगा, जिससे वे डीलर के पास जाकर रियायती कीमत पर चावल, गेंहू, चना दाल, आदि खरीद सकते हैं. यह कार्ड सबसे निम्न वर्गों के लोगों के लिए हैं, इसलिए इसमें बहुत कम कीमत पर अनाज दिया जाता है.

अन्त्योदय अन्न योजना का लाभ:

इस योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थियों को बहुत सस्ती कीमत पर अनाज दिया जायेगा. लाभार्थी परिवार को प्रतिमाह 35 किलो राशन जिसमे 20 किलो गेंहू तथा 15 किलो चावल शामिल है. गेंहू मात्र 2 रूपये प्रति किलोग्राम और चावल 3 रूपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से लाभार्थियों को अनाज प्रदान किया जायेगा. साथ ही 18.50 रूपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से चीनी भी खरीद सकते हैं. इसके अलावा अन्त्योदय एक वैध सरकारी दस्तावेज के रूप में माना जाता है. इसका उपयोग बच्चे के किसी स्कूल या हाई स्कूल में नामांकन के लिए कर सकते हैं. कुछ शिक्षण संस्थानों में अन्त्योदय परिवार से आने वाले बच्चो के लिए अतिरिक्त कोटा और छात्रवृत्ति का प्रावधान भी होता है. इस कार्ड का उपयोग आप बहुत से अन्य सरकारी सेवाओं के लाभ के लिए कर सकते हैं. लाभार्थी को अन्य सरकारी लाभ के लिए ज्यादा महत्त्व दिया जायेगा.

Antyodaya Anna Yojana Aay
Antyodaya Anna Yojana Aay

Antyodaya Yojana 2022 – Overview

योजना का नामअन्त्योदय अन्ना योजना
शुरू किया गयाकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के आर्थिक रूप से कमजोर एवं बेसहारा लोग
उद्देश्य  आर्थिक रूप से गरीब लोगों को रियायती कीमत पर अनाज प्रदान करना
लाभ35 किलोग्राम अनाज
आवेदन मोडऑफलाइन

अन्त्योदय अन्न योजना का उद्देश्य:

जैसा की आप सभी को पता होगा की हमारे देश में एक बहुत बड़ी जनसंख्या रहती है. इनमे से बहुत से लोग बेसहारा, दिव्यांग और आर्थिक रूप से कमजोर हैं. एक राष्ट्रिय सर्वे के अनुसार भारत के कुल आबादी का 5% हिस्सा बिना भोजन के सोते हैं. बहुत से लोग शारीरिक रूप से या मानसिक रूप से कमजोर होने के कारण काम करने के लिए भी सक्षम नही होते हैं. देश को बेहतर बनाने के लिए सरकार ऐसे लोगों को कई तरीके से लाभ पहुंचा रही है. अन्त्योदय योजाना को शुरू करने का उद्देश्य ऐसे ही आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को सहारा प्रदान करना है. इस योजना के जरिये लोगों को कम से कम भूखा नही सोना पड़ेगा. लोग राशन के जरिये अपनी जीवन यापन कर पाएंगे.

Benefits of AAY (Antyodaya Anna Yojana)

  • इस योजना के तहत देश के लाखों आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को राशन प्रदान किया जायेगा.
  • यह योजना के सभी राज्यों में शुरू किया गया है. इसलिए किसी भी राज्य से हो इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं.
  • यह योजना ग्रामीण क्षेत्र के साथ साथ शहरी क्षेत्र में रहने वाले आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए हैं.
  • इस योजना के तहत प्रतिमाह 35 किलो राशन दिया जायेगा, जिसमे 20 किलो गेंहू तथा 15 किलो चावल दिया जायेगा.
  • इस योजना के तहत 2 रूपये प्रतिकिलो के हिसाब से गेहूँ और 3 रूपये प्रतिकिलो के हिसाब से चवल प्रदान किया जायेगा.
  • इस योजना के तहत चीनी 18.50 रूपये प्रति किलो के हिसाब से प्राप्त कर पाएंगे.
  • AAY का लाभ मुख्यतः सबसे गरीब और विकलांग लोगों को प्रदान किया जाता है.
  • इस योजना के शुरू में 10 लाख परिवारों को शामिल किया गया था और बाद में इसकी संख्या बढती गयी.
  • AAY योजना के बाद गरीब परिवर्रों के 2.50 करोड़ गरीबों को कवर करने के लिए विस्तार किया गया है.

योजना के अंतर्गत आने वाले परिवार

  • AAY योजना के शुरू होने के बाद 2003-4 में लगभग 50 लाख परिवारों को BPL के चुन कर AAY के अंतर्गत शामिल किया गया. चूँकि उस समय सबसे गरीब वर्ग के लिए बीपीएल ही था, फिर AAY के आने के बाद उसमे से 50 लाख जो सबसे गरीब, बेसहारा, शारीरिक रूप से अक्षम परिवारों को इसमें शामिल किया गया है. इसमें अन्य बातों के साथ साथ भूख के जोखिम वाले सभी परिवारों को शामिल किया गया. कौन-कौन से परिवार इसके लिए पात्र हैं, उसकी जानकारी निचे दी गयी है.
  • भूमिहीन खेतिहर मजदूर, सीमांत किसान, ग्रामीण कारीगर/शिल्पकार जैसे कुम्हार,
  • चर्मकार, बुनकर, लोहार, बढ़ई, झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले लोग इस योजना के अंतर्गत शामिल है.
  • अपनी आजीविका कमाने वाले व्यक्ति.
  • विधवाओं के परिवार या बीमार व्यिक्ति/विकलांग/60 वर्ष या उससे अधिक आयु के व्य क्ति जिनके पास निर्वाह अथवा सामाजिक सहायता के लिए कोई सुनिश्चित साधन नहीं है।
  • अनौपचारिक क्षेत्र जैसे कुली, कुली, रिक्शा चालक, हाथ ठेला चलाने वाले, फल और
  • फूल विक्रेता, सपेरा, कूड़ा बीनने वाले, मोची, निराश्रित और इसी तरह की अन्य श्रेणियां
  • इसके तहत ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों के लोग शामिल है.
  • विधवा या बीमार व्यरक्ति या विकलांग व्यलक्ति या 60 साल से अधिक के व्यऔक्ति जिनके पास निर्वाह अथवा सामाजिक सहायता के लिए कोई सुनिश्चित साधन न हो।

ग्रामीण क्षेत्र के लिए पात्रता:

  • इस योजना के तहत वे परिवार शामिल होंगे जिनकी वार्षिक आय 15000 तक है.
  • वृद्धावस्था पेंशनभोगी भी इस योजना के तहत पात्र होंगे.
  • ऐसे मजदूर जिनके पास खेती के लिए भूमि नही है, वे भी AAY के तहत पात्र होंगे.
  • छोटे और सीमांत किसानों को भी इस योजना का लाभ दिया जायेगा.
  • शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्ति भी अन्त्योदय योजना के लिए पात्र होंगे.
  • निराश्रित विधवाएं जिनके पास कमाने वाला कोई नही है.
  • ग्रामीण कारीगर या शिल्पकार जैसे कुम्हार, बुनकर, लोहार, बढ़ई और झुग्गी-झोपडी में रहने वाले भी AAY के अंतर्गत शामिल है.

शहरी क्षेत्र के लिए पात्रता:

  • शहरी क्षेत्र में रहने वाले ऐसे परिवार जिनका सालाना आय 15 हजार रूपये से कम है, उन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा.
  • रिक्शा चालक जैसे दैनिक दांव AAY के तहत लाभार्थियों में से एक हैं.
  • फुटपाथ पर फल और फूल बेचने वाले लोग भी इस योजना के लिए पात्र होंगे.
  • घरेलु नैकारों को भी AAY का लाभ मिलेगा.
  • मजदूर परिवार भी इस योजना के लिए पात्र होंगे.
  • सपेरों, कूड़ा बीनने वालों, मोची वालों को भी इसका लाभ मिलेगा.
  • पेशे से कुली लोग भी अन्त्योदय योजना की लिए आवेदन कर सकते हैं.
  • विधवाओं या विकलांग व्यक्तियों या 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के व्यक्तियों के नेतृत्व वाले परिवारों को निर्वाह या सामाजिक समर्थन का कोई सुनिश्चित साधन नहीं है, उन्हें एएवाई का लाभ मिलेगा।

आवेदन के लिए जरुरी दस्तावेज:

इस योजना के लिए जो उम्मीदवार पात्र होंगे उन्हें आवेदन के लिए कुछ जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी. यदि आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको निचे बताये गये दस्तावेजों को तैयार रखना चाहिए.

  • आवेदक का पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • बीपीएल प्रमाण पत्र (यदि हो तो)
  • विलोपन प्रमाण पत्र या शपथ पत्र जिसमे कहा गया हो की आवेदक के पास पहले से कोई राशन कार्ड नही है.

अन्त्योदय योजना के नये नियम:

इस योजना का लाभ देश के हर एक जरुरतमंदों और सही व्यक्तियों के पास पहुँचाने के लिए पूर्व उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान जी ने ट्वीट करते हुए बताया है की अन्त्योदय अन्न योजना के तहत प्रति परिवार प्रतिमाह 35 किलोग्राम उपलब्ध कराया जायेगा. साथ ही उन्होंगे ट्वीट में ये भी लिखा है की AAY राशनकार्ड और प्राथमिकता वाले परिवार (PHH) राशनकार्ड के अंतर्गत कौन लाभार्थी होंगे इसकी जवाबदेही राज्य सरकार पर है. राज्य सरकारों को ट्वीट में AAY के तहत सिर्फ जरूरतमंद परिवारों को शामिल करने के लिए कहा गया है. अंत्योदय राशन कार्ड मान्यता प्राप्त करने के लिए अंत्योदय परिवार के लिए चयनित आवेदक के परिवार को एक अद्वितीय कोटा कार्ड प्रदान किया जाएगा।

अन्त्योदय योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया

जो इच्छुक उम्मीदवार इस योजना के अंतर्गत पात्र होंगे वे इस योजना के लिए कभी भी आवेदन कर सकते हैं. आवेदन की प्रक्रिया अलग-अलग राज्यों में अलग अलग है. आप सभी को बता दें की अभी सरकार ने अन्त्योदय योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू नही किया है. आपको ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा इसके लिए आवेदन करना होगा. हम आपको निचे स्टेप वाइज आवेदन की प्रक्रिया बता रहे हैं.

  • इसके लिए सबसे पहले आपको अपने क्षेत्र के खाद्य आपूर्ति विभाग में जाना होगा.
  • उसके आपको कार्यालय के बगल में किसी दुकान से अन्त्योदय अन्न योजना के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा.
  • आवेदन फॉर्म में आपको पूछी गयी सभी जानकारी जैसे आवेदक का नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि, आय विवरण, विकलांग है या नही, यदि विकलांग है तो उसकी डिटेल्स, परिवार के अन्य सदस्यों की विवरण, आदि भरना होगा.
  • उसके बाद उसमे सम्बन्धित दस्तावेजों को भी अटैच कर देना होगा.
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म को खाद्य आपूर्ति विभाग कार्यालय में जमा कर देना होगा.

फॉर्म जमा करने के बाद सभी जानकारी को सत्यापित किया जायेगा और फिर विभाग के अधिकारी द्वारा निर्णय लिया जायेगा की आप योजना प्राप्त करने के लिए योग्य है या नही. अधिक जानकारी के लिए आप अपने प्रधान से भी मिल सकते हैं. आवेदन के बाद आप लाभार्थी सूची में अपना नाम आसानी से चेक कर सकते हैं. लाभार्थी सूची में नाम चेक करने के लिए निचे जानकारी दी गयी है.

Antyodaya Anna Yojana State Wise Link

जो उम्मीदवार अन्त्योदय योजना के लिए आवेदन कर दिए हैं और सूची में अपना नाम खोना चाहते हैं वे निचे अपने राज्य के अनुसार लिंक पर क्लिक करके आसान से अन्त्योदय योजना की सूची देख सकते हैं.

राज्यअन्त्योदय योजना सूची लिंक
उत्तराखंडयहाँ क्लिक करें
हिमाचल प्रदेशयहाँ क्लिक करें
राजस्थानयहाँ क्लिक करें
बिहारयहाँ क्लिक करें
उत्तर प्रदेशयहाँ क्लिक करें
दिल्लीयहाँ क्लिक करें
गुजरातयहाँ क्लिक करें
हरियाणायहाँ क्लिक करें
पश्चिम बंगालयहाँ क्लिक करें
जम्मू कश्मीरयहाँ क्लिक करें
झारखंडयहाँ क्लिक करें
उड़ीसायहाँ क्लिक करें
केरलयहाँ क्लिक करें
मध्य प्रदेशयहाँ क्लिक करें
महाराष्ट्रयहाँ क्लिक करें
कर्नाटकयहाँ क्लिक करें
पंजाबयहाँ क्लिक करें
छत्तीसगढयहाँ क्लिक करें
तमिलनाडुयहाँ क्लिक करें
आंध्र प्रदेशयहाँ क्लिक करें

अन्त्योदय योजना हेल्पलाइन नंबर

यदि आपको अन्त्योदय योजना से सम्बन्धित किसी प्रकार की समस्या है तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हो. यदि आपको इससे सम्बन्धित कोई शिकायत दर्ज करना है तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हो. अलग-अलग राज्यों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी अलग-अलग है. निचे में हम आपको राज्य के अनुसार हेल्पलाइन नंबर की सूची बता रहे हैं.

राज्यहेल्पलाइन नंबर
बिहार1800-3456-194
आंध्र प्रदेश1800-425-2977
चंडीगढ़1800-180-2068
असम1800-345-3611
छत्तीसगढ़1800-233-3663
अंडमान व् निकोबार द्वीप समूह 
दादरा एवं नगर हवेली1800-233-4004
दमन एवं दीव 
दिल्ली1800-110-741
अरुणाचल प्रदेश 
जम्मू और कश्मीर1800-800-7011 (कश्मीर) 1800-180-7106 (जम्मू)
गोवा1800-233-0022
झारखण्ड1800-345-6598 & 1800-212-5512
गुजरात1800-233-5500
कर्नाटक1800-425-9339
हिमाचल प्रदेश1800-180-2087
हरियाणा1800-180-2087
केरल1800-425-1550
लक्षद्वीप1800-425-3186
मेघालय1800-345-3670
मणिपुर1800-345-3821
महाराष्ट्र1800-22-4950
मध्य प्रदेश 
मिजोरम1860-222-222-789 & 1800-345-3891
नागालैंड1800-345-3704 & 1800-345-3705
पुदुचेरी1800-425-1082
राजस्थान1800-180-6127
पंजाब1800-3006-1313
सिक्किम1800-345-3236
तेलंगाना1800-425-0333
तमिलनाडु1800-425-5901
त्रिपुरा1800-345-3665
उत्तर प्रदेश1800-180-0150
पश्चिम बंगाल1800-345-5505
उत्तराखंड1800-180-2000 & 1800-180-4188
Share on:

Leave a Comment

×